चीन के साथ गधों की डील करेगा पाकिस्तान, इससे पाक करेगी मोटी कमाई ?

कंगाल पाकिस्तान गधों का बेताज बादशाह बनता जा रहा है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि पाकिस्तान गधों के मामले में दुनिया में तीसरे नंबर पर पहुंच गया है। पाकिस्तान में कुल गधों की संख्या 59 लाख तक पहुंच गई है। पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था गधों के भरोसे चल रही है। वहीं, अब पाकिस्तान और… Continue reading चीन के साथ गधों की डील करेगा पाकिस्तान, इससे पाक करेगी मोटी कमाई ?

भारत का आतंकवाद से निपटने का तरीका हुआ बेहतर, जयशंकर ने चीन को भी लपेटा

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने भारत और चीन सीमा विवाद पर कहा है कि जब तक सीमाएं सुरक्षित नहीं हो जातीं, सेनाएं वहीं रहेंगी। उन्होंने दावा किया कि चीन सीमा पर बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए देश का बजट नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से लगातार बढ़ा है। विदेश मंत्री ने कहा… Continue reading भारत का आतंकवाद से निपटने का तरीका हुआ बेहतर, जयशंकर ने चीन को भी लपेटा

चीन ने अरुणाचल प्रदेश के विभिन्न स्थानों के लिए 30 और नाम जारी किए

अरुणाचल प्रदेश पर अपना दावा पेश करने की चीन की हालिया कोशिशों के बीच बीजिंग ने भारतीय राज्य में विभिन्न स्थानों के 30 नए नामों की चौथी सूची जारी की है।

भारत-चीन ने एलएसी से सैनिकों को हटाने व शेष मुद्दों के हल के लिए वार्ता की

भारत-चीन सीमा मामलों पर परामर्श और समन्वय के लिए कार्य तंत्र की 29वीं बैठक हुई और‍ दोनों पक्षों ने इसमें वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएएसी) से पूरी तरह से सैनिकों को हटाने और शेष मुद्दों को हल करने पर विचार-विमर्श किया। विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को एक बयान में यह जानकारी दी।

बयान में कहा गया है कि यह महत्वपूर्ण बैठक 27 मार्च को बीजिंग में हुई।

मंत्रालय ने कहा कि दोनों पक्षों ने इस बारे में गहन विचार-विमर्श किया कि भारत-चीन सीमावर्ती क्षेत्रों के पश्चिमी सेक्टर में एलएसी से पूरी तरह से सैनिकों की वापसी कैसे हो और शेष मुद्दों को हल किया जाए।

विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव (पूर्वी एशिया) ने भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया। बयान में कहा गया है कि चीनी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व चीनी विदेश मंत्रालय के सीमा और महासागरीय विभाग के महानिदेशक ने किया।

इसमें कहा गया है, “अंतरिम तौर पर, दोनों पक्ष राजनयिक और सैन्य माध्यमों से नियमित संपर्क में रहने और मौजूदा द्विपक्षीय समझौतों तथा प्रोटोकॉल के अनुसार सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति बनाए रखने की आवश्यकता पर सहमत हुए।”

भारत-चीन सीमा मामलों पर परामर्श और समन्वय के लिए कार्य तंत्र की 28वीं बैठक पिछले साल 30 नवंबर को हुई थी।

अरुणाचल प्रदेश प्रकरण में अमेरिका ने चीन को लगाई लताड़, कह दी बड़ी बात

अमेरिका ने अरुणाचल प्रदेश सीमा मामले में भारत का साथ देते हुए चीन को कड़ी चेतावनी दी है। दरअसल, अमेरिका ने कहा कि हम अरुणाचल को भारतीय क्षेत्र के रूप में मान्यता देते हैं। अमेरिका ने कहा कि हम वास्तविक नियंत्रण रेखा के पार के हिस्से पर चीन के दावे को गलत ठहराते हैं। बाइडन प्रशासन… Continue reading अरुणाचल प्रदेश प्रकरण में अमेरिका ने चीन को लगाई लताड़, कह दी बड़ी बात

गंगा, ब्रह्मपुत्र जैसी प्रमुख नदियों पर पड़ेगा जलवायु परिवर्तन का गहरा प्रभाव: रिपोर्ट

एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि गंगा, सिंधु और ब्रह्मपुत्र सहित दक्षिण एशिया की प्रमुख नदियों पर जलवायु परिवर्तन का गहरा प्रभाव पड़ेगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि मानवीय गतिविधियों और जलवायु परिवर्तन के कारण करीब एक अरब लोगों को गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। तीनों नदियों पर तैयार की गई… Continue reading गंगा, ब्रह्मपुत्र जैसी प्रमुख नदियों पर पड़ेगा जलवायु परिवर्तन का गहरा प्रभाव: रिपोर्ट

चीन के रेस्टोरेंट में विस्फोट, एक की मौत 22 जख्मी

उत्तरी चीन के हेबेई प्रांत में एक रेस्तरां में बुधवार को गैस रिसाव के कारण विस्फोट होने से एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि 22 अन्य ज़ख्मी हो गए।सरकारी मीडिया के मुताबिक विस्फोट के कारण इमारत और कई गाड़ियों को नुकसान पहुंचा है।

‘पिछले 4 साल के तनाव से ना तो भारत और ना ही चीन को कुछ हासिल हुआ’- विदेश मंत्री

पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ लगभग चार साल से जारी सीमा विवाद की पृष्ठभूमि में विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने सोमवार को कहा कि इस अवधि के दौरान के ‘‘तनाव’’ से दोनों देशों में से किसी को भी कुछ भी हासिल नहीं हुआ।

समुद्री क्षेत्र में गश्त के लिए मालदीव ने तुर्किये से ड्रोन खरीदे

मालदीव ने समुद्री क्षेत्र में गश्त करने के लिए तुर्किये से ड्रोन खरीदे हैं। यह जानकारी ऐसे समय में सामने आई है जब चीन ने मालदीव के साथ द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने के लिए मुफ्त सैन्य सहायता प्रदान करने के वास्ते मालदीव के साथ कुछ दिन पहले ही एक रक्षा सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

WTO में भारत ने चीन के नेतृत्व वाले निवेश सुविधा प्रस्ताव का विरोध किया

विश्व व्यापार संगठन में निवेश को लेकर चीन के एक प्रस्ताव का विरोध करते हुए भारत ने कहा है कि यह गैर-व्यापार का विषय है और इस अंतरराष्ट्रीय संगठन के दायरे से बाहर है।