छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली और सुरक्षाबलों के बीच तीन दिनों तक चली मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने करीब  15-20 नक्सलियों को मार गिराने का दावा किया है. इस लड़ाई में एक जवान के शहीद होने और दो के घायल होने की ख़बर है. पुलिस के मुताबिक माओवादियों के ख़िलाफ 3 दिनों तक ऑपरेशन चलाया गया. 100-150 की संख्या में नक्सलियों को घेरा गया था. खासबात ये थी कि पहली दफा माओवादी कोबरा जवानों की वर्दी में देखे गए. इस ऑपरेशन में सीआरपीएफ, डीआरजी, ज़िला बल और कोबरा के जवान शामिल थे. केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के आईजी देवेन्द्र चौहान ने

सोनीपत सुकमा नक्सली हमले में हरियाणा के भी दो जवान शहीद हुए हैं. एक इंद्री हल्के के खेड़ी मानसिंह गांव के रहने वाले सीआरपीएफ जवान राम मेहर और दूसरे सोनीपत के जवान नरेश भी इस हमले में शहीद हुए हैं. वहीं, इंद्री के प्रशासनिक अधिकारी और राज्यमंत्री कर्ण देव कंबोज खेड़ी मानसिंह गांव पहुंचे और शहीद जवान राम मेहर के परीजनों को सांत्वना दी. उधर, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने सुकमा में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए दुख जताया है.   फोटो- बाएं- सीआरपीएफ जवान राम मेहर, दाएं- सीआरपीएफ जवान

रायपुर छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों के हमले में सीआरपीएफ के 26 जवान शहीद हो गए हैं. बताया जा रहा है कि सुकमा में चिंतागुफा के पास नक्सलियों ने घात लगाकर सीआरपीएफ की टीम पर हमला किया. यह घटना सोमवार दोपहर डेढ़ बजे की है. बताया जा रहा है कि सीआरपीएफ की 74वीं बटालियन रोड ओपनिंग के लिए निकली थी. इस दौरान नक्सलियों ने सीआरपीएफ की टीम पर हमला किया. सीआरपीएफ के अधिकारी ने बताया है कि नक्सलियों के साथ हुए एनकाउंटर में सीआरपीएफ के 26 जवान शहीद हो गए हैं और 6 जवान घायल हैं. इसमें सात जवान गंभीर रूप से