गुजरात में 30 फुट गहरे बोरवेल से निकाली गयी 3 वर्षीय बच्ची की मौत

गुजरात के देवभूमि द्वारका जिले में 30 फुट गहरे बोरवेल में गिरी 3 वर्षीय बच्ची की एक अस्पताल में मौत हो गयी है। अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि लड़की को बोरवेल से निकाले जाने के बाद बेहोशी की हालत में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गयी। उन्होंने बताया कि… Continue reading गुजरात में 30 फुट गहरे बोरवेल से निकाली गयी 3 वर्षीय बच्ची की मौत

PM मोदी हर दिन रेस्क्यू ऑपरेशन की ले रहे थे जानकारी- CM पुष्कर सिंह धामी

सीएम धामी ने पीएम मोदी को विशेष धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि एक भी दिन ऐसा नहीं था जब उन्होंने बचाव अभियान के बारे में जानकारी न ली हो। ये ऑपरेशन केवल पीएम मोदी के मार्गदर्शन के कारण सफल रहा।”

सिलक्यारा सुरंग में फंसे श्रमिकों के लिए एंबुलेंस तैयार, की जा रही है सड़कों की मरम्मत

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में निर्माणाधीश सिलक्यारा सुंरग के मलबे की खुदाई में सफलता हासिल करने में महज पांच मीटर की दूरी शेष रह गई है। अंदर फंसे हुए श्रमिकों को सुरंग से निकाले जाने के बाद उन्हें तुरंत चिकित्सकीय मदद के वास्ते अस्पताल पहुंचाने के लिए मंगलवार को तैयारियां जारी हैं। श्रमिकों के बाहर… Continue reading सिलक्यारा सुरंग में फंसे श्रमिकों के लिए एंबुलेंस तैयार, की जा रही है सड़कों की मरम्मत

सिलक्यारा सुरंग में हाथ से ड्रिलिंग जारी, बचावकर्मी 50 मीटर से आगे पहुंचे

सिलक्यारा सुरंग में बचावकर्मियों ने 50 मीटर की दूरी को पार कर लिया है और पिछले 16 दिन से अंदर फंसे श्रमिकों तक पहुंचने के लिए ‘रैट होल माइनिंग’ तकनीक से की जा रही ड्रिलिंग के जरिए अब मलबे में केवल 10 मीटर का रास्ता साफ करना शेष रह गया है। अधिकारियों ने बताया कि… Continue reading सिलक्यारा सुरंग में हाथ से ड्रिलिंग जारी, बचावकर्मी 50 मीटर से आगे पहुंचे

सुरंग से श्रमिकों को निकालने के प्रयासों को एक और झटका, खराब हुई ऑगर मशीन

अंतरराष्ट्रीय सुरंग विशेषज्ञ अर्नोल्ड डिक्स ने शनिवार को कहा कि उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में निर्माणाधीन सिलक्यारा सुरंग में फंसे 41 श्रमिकों को बचाने के लिए जिस ऑगर मशीन से ‘ड्रिल’ की जा रही थी, वह खराब हो गई है। डिक्स ने सिलक्यारा में पत्रकारों से कहा कि ऑगर टूट गई है, क्षतिग्रस्त हो गई… Continue reading सुरंग से श्रमिकों को निकालने के प्रयासों को एक और झटका, खराब हुई ऑगर मशीन

सिलक्यारा सुरंग में हाथ से ड्रिलिंग के विकल्प पर किया जा रहा है विचार

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में निर्माणाधीन सिलक्यारा सुरंग में 13 दिन से फंसे 41 श्रमिकों को निकालने के लिए ऑगर मशीन से ड्रिलिंग के दौरान बार-बार आ रही बाधाओं के कारण बचावकर्ता हाथ से ड्रिलिंग करने के विकल्प पर विचार कर रहे हैं। श्रमिकों को बाहर निकालने के लिए सुरंग के ढहे हिस्से में की… Continue reading सिलक्यारा सुरंग में हाथ से ड्रिलिंग के विकल्प पर किया जा रहा है विचार

सुरंग हादसे का आज 14 वां दिन, लोहे का सरिया आने से बचाव अभियान फिर बाधित

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर निर्माणाधीन सिलक्यारा सुरंग का एक हिस्सा ढहने से उसमें फंसे श्रमिकों को बाहर निकालने के लिए युद्धस्तर पर चलाए जा रहे बचाव अभियान का आज 14 वां दिन है। 12 नवंबर को दीवाली वाले दिन सुबह करीब साढ़े पांच बजे निर्माणाधीन सिलक्यारा-डंडालगांव सुरंग का एक हिस्सा… Continue reading सुरंग हादसे का आज 14 वां दिन, लोहे का सरिया आने से बचाव अभियान फिर बाधित

ड्रिलिंग के प्लेटफॉर्म को किया गया ठीक, शीघ्र ही फिर से शुरू हो सकती है ड्रिलिंग

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में निर्माणाधीन सिलक्यारा सुरंग में फंसे श्रमिकों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए मलबे के बीच से पाइप को डालने का काम कुछ देर में प्रांरभ होने की उम्मीद है। क्योंकि जिस प्लेटफॉर्म पर ड्रिलिंग मशीन टिकी हुई है उसमें आई दरारों को ठीक कर लिया गया है। बृहस्पतिवार देर रात… Continue reading ड्रिलिंग के प्लेटफॉर्म को किया गया ठीक, शीघ्र ही फिर से शुरू हो सकती है ड्रिलिंग

श्रमिकों का तनाव दूर करने के लिए उन्हें बोर्ड गेम और ताश देने की योजना

उत्तराखंड के उत्तरकाशी में निर्माणाधीन सिलक्यारा सुरंग में 12 दिन से फंसे 41 श्रमिकों का तनाव दूर करने के लिए बचाव दल ने उन्हें ‘बोर्ड गेम’ और ताश उपलब्ध कराने की योजना बनाई है। श्रमिकों को सुरंग से बाहर निकालने के अभियान में कई परेशानियां आ रही हैं। बृहस्पतिवार देर रात सुरंग के मलबे के… Continue reading श्रमिकों का तनाव दूर करने के लिए उन्हें बोर्ड गेम और ताश देने की योजना

उत्तरकाशी में प्रशासन का रेस्क्यू जारी, आज रात तक बाहर आ सकते हैं 41 मजदूर

उत्तरकाशी टनल हादसे में रेस्क्यू ऑपरेशन अब अपने आखिरी पड़ाव पर है। बचाव दल सुरंग के अंदर फंसे 41 मजदूरों को निकालने के बहुत करीब पहुंच गया है। अब महज कुछ ही मीटर की दूरी रह गई है।