पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को सतलुज-यमुना संपर्क नहर (एसवाईएल) के मुद्दे के निपटारे के लिए दो महीने का समय देने के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत किया. उन्होंने केंद्र सरकार से इस मुद्दे के शुरुआती प्रस्ताव के लिए हरियाणा के साथ वार्ता की सुविधा देने का आग्रह किया. वार्ता के जरिए समस्या के हल होने की बात को दोहराते हुए अमरिंदर ने कहा कि पंजाब इससे किसी को वंचित नहीं करना चाहता है. राज्य में पानी की गंभीर कमी ने हमें इस महत्वपूर्ण संसाधन को बांटने से रोकने पर मजबूर किया है. उन्होंने कहा कि राज्य भूजल के