जम्मू-कश्मीर में अलग-अलग सड़क हादसों में पांच की मौत

जम्मू-कश्मीर के सांबा, पुंछ और रामबन जिलों में बुधवार को चार अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में एक नाबालिग लड़की समेत पांच लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने यह जानकारी दी।

पुलिस ने कहा कि सांबा में एक पुल पर गलत दिशा से आ रहे एक ट्रक ने मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी, जिससे उस पर सवार दो साधुओं बाबा भीम गिरी (55) और सुरेश कुमार (52) की मौत हो गई। दोनों साधु नरवाल बाइपास के रहने वाले थे और पठानकोट जा रहे थे।

पुलिस ने बताया कि हादसा सुबह करीब 10 बजे हुआ और घटना के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया।

पुलिस के अनुसार पुंछ के सुरनकोट इलाके में सुबह 11.30 बजे हुई एक अन्य दुर्घटना में एक यात्री वाहन सड़क से फिसलकर 100 मीटर गहरी खाई में जा गिरा। इस हादसे में वाहन को चला रहे 26 वर्षीय मोहम्मद नसीर खान की मौके पर ही मौत हो गई।

पुलिस ने कहा कि रामबन जिले में जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बनिहाल अदालत परिसर के पास एक तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आने से 17 वर्षीय लड़की की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि मृतक की पहचान सबूरा रफीक के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि चालक को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने कहा कि इसी राजमार्ग पर रामबन में एक अन्य घटना में एक चालक की मौत हो गई और दो यात्री घायल हो गए। दुर्घटना तब हुई जब लापरवाही से चलाए जा रहे एक ट्रक ने दलवास के पास एक खड़े डंपर को टक्कर मार दी।

उन्होंने बताया कि घायलों को अस्पताल ले जाया गया। पुलिस ने कहा कि मृतक ट्रक चालक की शिनाख्त की कोशिश की जा रही है।

खन्ना में टला बड़ा हादसा, चलती ट्रेन से अलग हुआ इंजन

खन्ना में अर्चना एक्सप्रेस का इंजन अलग हो गया और दो से तीन किलोमीटर दूर पहुंचा। इस दौरान ट्रेन में करीब ढाई हजार यात्री सवार थे।

जम्मू लोकसभा सीट पर कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान जारी

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में जम्मू-कश्मीर की जम्मू लोकसभा सीट पर कड़ी सुरक्षा के बीच शुक्रवार सुबह मतदान शुरू हो गया । इस सीट पर 17.81 लाख से अधिक मतदाता 22 उम्मीदवारों के चुनावी भाग्य का फैसला करने के लिए अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

राजौरी में आतंकी हमला, सुरक्षाबल अलर्ट… इलाके में सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन जारी

घाटी के राजौरी जिले में  हुए आतंकी हमले के बाद सुरक्षबल अलर्ट पर हैं। आंतकियों की ओर से एक शख्स की हत्या करने के बाद इलाके में सुरक्षाबलों ने सर्च ऑपरेशन चलाया।

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में एक IED मिला

जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में शनिवार को मोबाइल फोन के एक डिब्बे के अंदर लगाये गये आईईडी का पता चला और बाद में इसे नष्ट कर दिया गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

जम्मू कश्मीर के रियासी में आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़, हथियार एवं विस्फोटक बरामद

सुरक्षा बलों ने शनिवार को यहां एक आतंकवादी ठिकाने का भंडाफोड़ किया और मौके से हथियार एवं गोला-बारूद बरामद किये। पुलिस ने यह जानकारी दी।

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि रियासी के माहौर उपमंडल के लांचा इलाके में जम्मू-कश्मीर पुलिस और राष्ट्रीय राइफल्स के संयुक्त अभियान के दौरान आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़ किया गया।

पुलिस ने कहा कि एक गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए टीम ने तलाशी अभियान चलाया और एक टिफिन बॉक्स में लगा एक परिष्कृत विस्फोटक उपकरण (आईईडी) एवं दो पिस्तौल बरामद कीं।

उन्होंने बताया कि आखिरी समाचार मिलने तक यह अभियान जारी था।

प्रवक्ता ने बताया कि आईईडी और दो पिस्तौल के अलावा, सुरक्षा बलों की टीम ने तीन इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 400 ग्राम बारूद, पिस्तौल की दो मैगजीन एवं 24 गोलियां, ए के असॉल्ट राइफल की 40 गोलियां, आठ बैटरी, 40 मीटर बिजली के तार, पांच मीटर प्लास्टिक की रस्सी भी बरामद की।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा मौके से एक स्टील प्लेट, एक गिलास, एक बैग, तीन बेडशीट और कुछ तस्वीरें भी बरामद की गयी हैं।

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में संदिग्ध गतिविधि दिखाई देने पर सेना ने गोलीबारी की

जम्मू-कश्मीर में राजौरी जिले के एक गांव में शनिवार तड़के सेना के जवानों ने अपने शिविर के निकट संदिग्ध गतिविधि दिखाई देने पर गोलीबारी की। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि दरहाल इलाके में स्रोथा मोरहा गांव में हुई गोलीबारी में कोई हताहत नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा कि अज्ञात व्यक्तियों के एक समूह को शिविर की ओर बढ़ते देखकर एक संतरी ने गोलियां चलाईं, जिसके बाद यह समूह निकटवर्ती गांव में भाग गया। उन्होंने कहा कि संदिग्धों की तलाश में अभियान चलाया जा रहा है।

अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा बलों ने शनिवार सुबह राजौरी के शाहदरा शरीफ इलाके में भी तलाशी अभियान चलाया लेकिन इस मामले में किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

जम्मू कश्मीर के पुंछ में एक आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़, सात आईईडी बरामद

सुरक्षा बलों ने रविवार को जम्मू कश्मीर में पुंछ जिले के एक जंगल में आतंकवादियों के एक ठिकाने का भंडाफोड़ किया और सात आईईडी बरादम किये तथा एक वायरलेस सेट जब्त किया।

अधिकारियों ने बताया कि यह ठिकाना सुरनकोट इलाके में दारा सांगला में एक गुफा के अंदर था। पुलिस और सेना के संयुक्त खोज दल ने इसका भंडाफोड़ किया।

उन्होंने बताया कि ठिकाने से कंबल और कुछ अन्य सामान भी बरामद किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि एक मामला दर्ज किया गया है और मामले की जांच की जा रही है। अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि इलाके में दो दशक पहले सक्रिय आतंकवादी इस ठिकाने का इस्तेमाल करते थे।

दो दिन बंद रहने के बाद जम्मू कश्मीर राजमार्ग एकतरफा यातायात के लिए खुला

भारी बारिश और बर्फबारी के कारण कई स्थानों पर हुए भूस्खलन के कारण दो दिन तक बंद रहने के बाद सोमवार को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को एक तरफ से यातायात के लिए दोबारा खोल दिया गया है। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी।

अधिकारियों ने बताया कि कश्मीर को देश के शेष हिस्से से जोड़ने वाला 270 किलोमीटर लंबा यह राजमार्ग नाशरी और बनिहाल के बीच, दलवास और हिंगनी समेत एक दर्जन से अधिक स्थानों पर भारी बारिश की वजह से हुये भूस्खलन, मिट्टी धंसने और पत्थर गिरने की घटना के बाद शनिवार तड़के यातायात के लिए बंद कर दिया गया था।

यातायात पुलिस ने बताया कि दलवास, मेहद-कैफेटेरिया, नचलाना, गंगरू, हिंगनी, किश्तवाड़ी पाथेर में सिंगल लेन और सड़क की खराब सतह को देखते हुए, सड़क की दोहरी मरम्मत होने तक आज सुबह केवल एक तरफ से यातायात फिर से शुरू किया गया।

उन्होंने कहा कि आज जम्मू से श्रीनगर तक यातायात सामान्य रूप से चल रहा है।

हालांकि, यातायात विभाग ने यात्रियों को लेन अनुशासन का पालन करने और सावधानी से वाहन चलाने की सलाह दी है।

घाटी में कई जगहों पर बर्फबारी, सड़कों से बर्फ हटाने में जुटा प्रशासन

कश्मीर घाटी के कई इलाकों में लगातार बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी के बाद यहां की कई सड़कों पर यातायात के लिए बंद कर दिया गया है। जिसकी वजह से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लोगों की परेशानियों को कम करने के लिए प्रशासन की टीमें लगातार सड़कों से बर्फ हटाने का काम कर रही है।