लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू

देश में आठ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख में 49 सीटों पर लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के तहत मतदान होगा।

हरियाणा : आचार संहिता लागू होने के बाद से 344 गैरलाइसेंसी हथियार जब्त किए गए

हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुराग अग्रवाल ने बताया कि चुनाव आचार संहिता के अनुपालन में राज्य में 1,33,505 लाइसेंसी हथियारों में से 81 हजार हथियार उनके धारकों ने मंगलवार तक संबंधित थानों में जमा करा दिए हैं।

लोकसभा चुनाव: नोएडा में शुक्रवार को स्कूल, कारखाने रहेंगे बंद

जिला निर्वाचन अधिकारी वर्मा ने कहा, ‘‘ हम उन रेजिडेंट वेलफेयर असोसिएशन (आरडब्ल्यूए) और अपार्टमेंट ऑनर असोसिएशन (एओए) को प्रशस्ति प्रमाण पत्र भी देंगे जहां इस बार मतदान प्रतिशत में सुधार देखा जाएगा।’’

वोटर इन क्यू एप से पता चलेगी मतदान केन्द्र पर लाइन की जानकारी: अनुराग अग्रवाल

चन्द्र शेखर धरणी, चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुराग अग्रवाल ने कहा कि हरियाणा में पिछले लोकसभा चुनाव में हुए 70 प्रतिशत मतदान को इस बार 2024 के लोकसभा चुनावों में 75 प्रतिशत तक पहुंचाने का लक्ष्य तय किया है। इस कड़ी में मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय, हरियाणा ने ‘वोटर इन क्यू’ नाम से… Continue reading वोटर इन क्यू एप से पता चलेगी मतदान केन्द्र पर लाइन की जानकारी: अनुराग अग्रवाल

लोकसभा चुनाव के पहले चरण में कल 21 राज्यों की 102 सीटों पर मतदान

निर्वाचन आयोग के अनुसार मतदान सुबह सात बजे शुरू हो कर शाम छह बजे तक चलेगा। आयोग ने 1.87 लाख मतदान केंद्रों पर 18 लाख से अधिक मतदान कर्मियों को तैनात किया है। इन मतदान केंद्रों पर 16.63 करोड़ से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे।

लोकसभा चुनाव: निर्वाचन अधिकारी ने गढ़वाल से कांग्रेस के उम्मीदवार को चेतावनी दी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गोदियाल के खिलाफ निर्वाचन आयोग को दी अपनी शिकायत में कहा था कि उन्होंने भाजपा प्रत्याशी अनिल बलूनी पर ‘‘झूठे और मनगढ़ंत’’ आरोप लगाये हैं।

सपा प्रत्याशी शिवपाल ने वोट नहीं देने पर हिसाब करने की बात कही, वीडियो वायरल

जिलाधिकारी बदायूं मनोज कुमार ने बताया कि हमने वीडियो का पता लगा लिया है। कुमार ने कहा कि निर्वाचन आयोग ने इस वायरल वीडियो के संबंध में जानकारी मांगी है।

निर्वाचन आयोग ने कम मतदान वाली 266 संसदीय सीटों की पहचान की

New Delhi: Chief Election Commissioner Rajiv Kumar with Election Commissioner Gyanesh Kumar during a conference on the issue of 'Low Voter Turnout' ahead of Lok Sabha elections, in New Delhi, Friday, April 5, 2024. (PTI Photo/Atul Yadav)(PTI04_05_2024_000042B)

निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को कहा कि उसने कम मतदान वाले कुल 266 संसदीय क्षेत्रों की पहचान की है और वह लोकसभा चुनावों में इन क्षेत्रों में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए योजना बना रहा है।

इन 266 संसदीय क्षेत्रों में से 215 ग्रामीण इलाकों में हैं।

प्रमुख शहरों के नगर निगम आयुक्तों और बिहार और उत्तर प्रदेश के चुनिंदा जिला चुनाव अधिकारियों (डीईओ) ने चिह्नित शहरी और ग्रामीण लोकसभा सीटों में मतदाताओं की भागीदारी बढ़ाने पर यहां चर्चा की।

निर्वाचन आयोग ने कम मतदान को लेकर आयोजित एक सम्मेलन में कहा कि कम मतदान वाले 266 संसदीय क्षेत्रों की पहचान की गई है जिनमें से 215 ग्रामीण और 51 शहरी क्षेत्र हैं।

बिहार, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, तेलंगाना, गुजरात, पंजाब, राजस्थान, जम्मू-कश्मीर और झारखंड सहित 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 2019 के लोकसभा चुनावों में राष्ट्रीय औसत 67.40 प्रतिशत से कम मतदान हुआ था।

प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने जोर देकर कहा कि ‘एक जैसा रुख सभी के लिए उपयुक्त है’ वाला दृष्टिकोण इस मामले में काम नहीं आएगा। उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों और खंडों के लिए अलग-अलग रणनीतियों पर काम करने की वकालत की।

सात चरणों में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए मतदान 19 अप्रैल से शुरू होगा। मतों की गिनती चार जून को होगी।

निर्वाचन आयोग ने ‘आप’ नेत्री आतिशी को भेजा ‘कारण बताओ’ नोटिस, कल तक जवाब देने को कहा

निर्वाचन आयोग ने कहा कि वह अपेक्षा करता है कि आप नेता द्वारा दिए गए बयानों का एक “तथ्यात्मक आधार” होना चाहिए और चूंकि दिए गए बयानों की सत्यता पर विवाद हुआ है, इसलिए उन्हें तथ्यात्मक आधार के साथ इसका समर्थन करने में सक्षम होना चाहिए।

करनाल उप चुनाव पर हाई कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

याचिका में भारतीय चुनाव आयोग को करनाल विधानसभा क्षेत्र के लिए जारी चुनाव कार्यक्रम को रद्द करने का निर्देश देने की मांग की गई है। बता दें कि करनाल विधानसभा सीट 13 मार्च को हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के इस्तीफे के कारण खाली हुई थी।