दिल्ली के अस्पताल में आग की घटना पर चर्चा के लिए स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने बैठक बुलाई

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने पूर्वी दिल्ली के एक अस्पताल में आग लगने की घटना के बारे में बातचीत के लिए सोमवार को एक बैठक बुलाई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली सचिवालय में यह बैठक होगी जिसमें स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहेंगे। उन्होंने कहा कि बैठक में भीषण गर्मी के हालात पर भी चर्चा की जाएगी।

अधिकारियों ने रविवार को बताया कि पूर्वी दिल्ली के विवेक विहार में एक निजी शिशु अस्पताल में शनिवार रात आग लगने से सात नवजात शिशुओं की मौत हो गयी और पांच अन्य घायल हो गए।

उन्होंने बताया कि अस्पताल लाइसेंस की अवधि समाप्त हो जाने और अग्निशमन विभाग से मंजूरी नहीं मिलने के बाद अवैध रूप से संचालित किया जा रहा था।

पुलिस ने घटना के सिलसिले में अस्पताल के मालिक डॉ. नवीन किची और डॉ. आकाश को गिरफ्तार कर लिया है। उसने बताया कि शनिवार रात आग लगने की घटना के वक्त डॉ. आकाश ड्यूटी पर थे।

LG ने मुख्य सचिव को अस्पताल में आग लगने की घटना की जांच शुरू करने का निर्देश दिया

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने भी स्वास्थ्य सचिव एसबी दीपक कुमार और मुख्य सचिव नरेश कुमार को इस घटना की तुरंत जांच करने का आदेश दिया।

गुजरात में 27 लोगों और दिल्ली में 7 शिशुओं ने गंवाईं जान, आखिर गर्मियों में क्यों बढ़ जाती हैं आग की घटनाएं ?

इंसान का आग के बिना गुजारा मुश्किल है, लेकिन कई बार ये मौत की वजह बन जाती है। भारत के विभिन्न राज्यों में इस वक्त भीषण गर्मी के कारण लोगों की हालत खराब हो रही है। गर्मी के महीने में आग लगने की घटनाओं में भी अचानक से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। गुजरात… Continue reading गुजरात में 27 लोगों और दिल्ली में 7 शिशुओं ने गंवाईं जान, आखिर गर्मियों में क्यों बढ़ जाती हैं आग की घटनाएं ?

पूर्वी दिल्ली में आवासीय इमारत में आग लगने से तीन लोगों की मौत

इससे पहले, पूर्वी दिल्ली के विवेक विहार स्थित बच्चों के एक अस्पताल में शनिवार रात भीषण आग लगने से कम से कम सात नवजात शिशुओं की मौत हो गई थी।

दिल्ली के बेबी केयर सेंटर में भीषण आग, 7 नवजात बच्चों की मौत

पूर्वी दिल्ली के विवेक विहार स्थित 2 मंजिला बेबी डे केयर सेंटर में शनिवार रात भीषण आग लग गई। सेंटर में भर्ती 12 नवजात में से 7 ने दम तोड़ दिया। अधिकारियों ने बताया कि इसमें से कुछ नवजात झुलस गए तो, कुछ नवजात ऑक्सीजन सपोर्ट हटने से जीवित नहीं रह पाए। विवेक विहार थाना… Continue reading दिल्ली के बेबी केयर सेंटर में भीषण आग, 7 नवजात बच्चों की मौत

लोकसभा चुनाव: दिल्ली में अपराह्न तीन बजे तक 44.58 प्रतिशत मतदान

लोकसभा चुनाव के छठे चरण में दिल्ली की सात संसदीय सीट पर शनिवार को अपराह्न तीन बजे तक 44.58 प्रतिशत मतदान हुआ।

दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय ने बताया कि अपराह्न तीन बजे तक सबसे अधिक 47.85 प्रतिशत मतदान उत्तर पूर्वी दिल्ली क्षेत्र में हुआ, जबकि नयी दिल्ली सीट पर सबसे कम 42.17 प्रतिशत मतदान हुआ।

निर्वाचन आयोग के आंकड़े के अनुसार, अपराह्न तीन बजे तक पूर्वी दिल्ली में 44.70 प्रतिशत, चांदनी चौक में 43.24 प्रतिशत, उत्तर पश्चिम दिल्ली में 44.78 प्रतिशत, दक्षिण दिल्ली में 42.96 प्रतिशत और पश्चिम दिल्ली में 44.91 प्रतिशत मतदान हुआ।

निर्वाचन अधिकारियों ने कहा कि किसी भी मतदान केंद्र पर तकनीकी खराबी या मतदान शुरू होने में देरी की कोई जानकारी नहीं मिली है।

हालांकि, नयी दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र के सेंट कोलंबा स्कूल में अपने मताधिकार का प्रयोग करने गईं मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) नेता वृंदा करात ने आरोप लगाया कि उन्हें वोट डालने के लिए लगभग एक घंटे तक इंतजार करना पड़ा, क्योंकि उनके मतदान केंद्र पर ईवीएम नियंत्रण इकाई की बैटरी खत्म हो गई थी।

करात ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि उन्हें मतदान करने से पहले लगभग 50 मिनट तक इंतजार करना पड़ा। करात ने कहा, ‘‘हम वोट देने आए हैं, वे कह रहे हैं कि मशीन की बैटरी ‘डाउन’ हो गई है। अगर मशीन की बैटरी सुबह-सुबह ‘डाउन’ हो गई है, तो सोचिए निर्वाचन आयोग की (तैयारी की) क्या स्थिति है।’’

उनके आरोप पर प्रतिक्रिया देते हुए नयी दिल्ली जिले के निर्वाचन अधिकारी ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा कि नियंत्रण इकाई की बैटरी सुबह 10 बजे के आसपास ‘डिस्चार्ज’ हो गई थी और इसे 15 मिनट के भीतर बदल दिया गया था।

दिल्ली की मंत्री आतिशी और सौरभ भारद्वाज ने भी अनियमितताओं की शिकायत की। आतिशी ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘‘दिल्ली के विभिन्न हिस्सों से चिंताजनक खबरें आ रही हैं… जनकपुरी के कैप्टन अनुज नय्यर स्कूल में पीठासीन अधिकारी ने मतदान एजेंट से प्रपत्र 17 (सी) पर सुबह ही हस्ताक्षर कराने की कोशिश की।’’

उन्होंने कहा, ‘‘सरकारी स्कूल संख्या तीन, कालकाजी में एक निर्वाचन अधिकारी ने अभी आकर निर्देश दिए कि मतदान एजेंट कोई भी डेटा ‘नोट’ नहीं कर सकते। क्या निर्वाचन आयोग की मतदान संख्या में हेरफेर करने की योजना है?’’

दिल्ली मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा कि चुनाव कर्मियों को शिकायतों की जांच करने के लिए कहा गया है।

सुबह-सुबह मतदान करने वालों में केंद्रीय मंत्री एस जयशंकर और हरदीप सिंह पुरी, दिल्ली की मंत्री आतिशी, पूर्वी दिल्ली के निवर्तमान सांसद गौतम गंभीर और विभिन्न दलों के उम्मीदवार शामिल रहे।

अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने भी नयी दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र में अपना वोट डाला।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी मतदान किया और लोगों से मतदान करने की अपील की।

केजरीवाल ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर लिखा, ‘‘मैं सभी मतदाताओं से अपील करता हूं कि वोट जरूर डालकर आएं। अपने परिवार, सगे-सम्बंधियों और मित्रों से भी वोट करने के लिए कहें।’’

उन्होंने कहा, ‘‘लोकतंत्र के इस महापर्व में आपका एक-एक वोट तानाशाही सोच के खिलाफ भारत के लोकतंत्र और संविधान को मजबूत करने के लिए होगा। मतदान केंद्र पर जाइए और अपने वोट से बता दीजिए कि भारत में जनतंत्र है और जनतंत्र ही रहेगा।’’

मौसम विभाग ने दिन के लिए ‘येलो अलर्ट’ जारी किया है और अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने का अनुमान व्यक्त किया है।

दिल्ली निर्वाचन आयोग ने कहा है कि उसने भीषण गर्मी को देखते हुए मतदाताओं के लिए पर्याप्त व्यवस्था की है।

लोगों को सुबह सात बजे मतदान शुरू होने से पहले ही सात निर्वाचन क्षेत्रों में 13,000 से अधिक मतदान केंद्रों के बाहर कतारों में खड़े देखा गया।

जयशंकर ने नयी दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र में एपीजे अब्दुल कलाम लेन पर अटल आदर्श विद्यालय में सबसे पहले मतदान किया। उन्होंने ‘पीटीआई वीडियो’ से कहा, ‘‘हम चाहते हैं कि लोग बड़ी संख्या में मतदान करने के लिए आएं क्योंकि यह देश के लिए एक बड़ा निर्णय लेने का समय है।’’

पुरी ने कहा कि द्वार खुलने से आधे घंटे पहले मतदान केंद्र पर पहुंचकर लोकतंत्र के उत्सव में भाग लेना बहुत अच्छा एहसास है।

आतिशी ने दक्षिणी दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र के कालकाजी बी ब्लॉक स्थित निगम प्रतिभा विद्यालय में अपना वोट डाला। ‘आप’ की राज्यसभा सदस्य स्वाति मालीवाल ने भी वोट डाला।

गंभीर ने सरकारी सर्वोदय कन्या विद्यालय में वोट डालने के बाद लोगों से अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने की अपील की।

दक्षिणी दिल्ली से आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार सही राम पहलवान, चांदनी चौक से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार प्रवीण खंडेलवाल और नयी दिल्ली से भाजपा उम्मीदवार बांसुरी स्वराज भी मतदान की शुरुआत में ही वोट डालने वाले मतदाताओं में शामिल रहे।

पहलवान ने कहा, ‘‘मैं दिल्लीवासियों से अपील करता हूं कि वे वोट डालें क्योंकि यह देश का एक बड़ा त्योहार है।’’

कांग्रेस संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को लोकसभा चुनाव के छठे चरण में नयी दिल्ली संसदीय क्षेत्र में अपना वोट डाला।

वे सुबह करीब साढ़े नौ बजे निर्माण भवन के मतदान केंद्र पर पहुंचे और अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा, उनके पुत्र रेहान राजीव वाद्रा और पुत्री मिराया वाद्रा ने भी मतदान किया।

पहली बार मतदान करने वाली मिराया ने कहा, ‘‘मैं वोट देने के लिए पहुंची हूं। सभी को बाहर आना चाहिए और मतदान करना चाहिए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘युवाओं के लिए मेरा एकमात्र संदेश है कि बाहर आएं और मतदान करें। बदलाव लाना हमारा काम है, इसलिए हमें बाहर आकर मतदान करने की जरूरत है।’’

रेहान ने कहा, ‘‘गर्मी है लेकिन हमें सीधे बदलाव लाने और लोकतंत्र में भाग लेने का मौका हर पांच साल में मिलता है, इसलिए सभी को बाहर आना चाहिए और मतदान करना चाहिए।’’

भाई-बहन ने नयी दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र के तहत लोधी रोड स्थित एक मतदान केंद्र पर मतदान किया।

पुलिस उपायुक्त (मध्य) एम हर्षवर्धन ने कहा कि पुलिस ने चुनाव को सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए अच्छे इंतजाम किए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराना हमारे लिए एक महत्वपूर्ण कार्य है। इस प्रक्रिया में शामिल सभी लोगों के लिए यह बहुत गर्व की बात है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमने अच्छी व्यवस्था की है। हम अधिकारियों और मतदाताओं के बीच काफी उत्साह देख रहे हैं। हम बड़ी संख्या में मतदान होने की आशा करते हैं और सभी को मतदान करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।’’

अधिकारियों ने बताया कि 82 लाख पुरुषों, 69 लाख महिलाओं और 1,228 ‘ट्रांसजेंडर’ समेत कुल 1.52 करोड़ मतदाता सात निर्वाचन क्षेत्र में 13,000 से अधिक मतदान केंद्रों पर वोट डालने के लिए पात्र हैं। इस बार दिल्ली में 2.52 लाख से अधिक मतदाता ऐसे हैं जो पहली बार मतदान करेंगे।

भाजपा को 2014 और 2019 के आम चुनावों में दिल्ली की सभी सात सीट पर भारी अंतर से जीत मिली थी और उसका लगातार तीसरी बार सभी सीट पर जीत दर्ज करने का लक्ष्य है।

विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ (इंडियन नेशनल डेवलेपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस) के सहयोगी आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस दिल्ली में मिलकर चुनाव लड़ रही हैं। सीट बंटवारे की व्यवस्था के तहत ‘आप’ चार और कांग्रेस तीन सीट पर चुनाव लड़ रही है।

यह दिल्ली में पहला ऐसा लोकसभा चुनाव है जिसमें ‘आप’ और कांग्रेस ने भाजपा के खिलाफ संयुक्त उम्मीदवार उतारे हैं।

आम आदमी पार्टी (आप) ने पूर्वी दिल्ली सीट से कुलदीप कुमार, पश्चिमी दिल्ली से महाबल मिश्रा, नयी दिल्ली से सोमनाथ भारती और दक्षिणी दिल्ली से सही राम पहलवान को मैदान में उतारा है।

कांग्रेस ने चांदनी चौक सीट से जे पी अग्रवाल, उत्तर पूर्वी दिल्ली से कन्हैया कुमार और उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट से उदित राज को उम्मीदवार बनाया है।

भाजपा ने उत्तर पूर्वी दिल्ली से मनोज तिवारी को प्रत्याशी बनाया है। वह दिल्ली से एकमात्र मौजूदा सांसद हैं जिन्हें पार्टी ने दोबारा मैदान में उतारा है। इसके अलावा पार्टी ने दक्षिणी दिल्ली से रामवीर सिंह बिधूड़ी, नयी दिल्ली से बांसुरी स्वराज, पूर्वी दिल्ली से हर्ष दीप मल्होत्रा, उत्तर पश्चिम दिल्ली से योगेन्द्र चंदोलिया, चांदनी चौक से प्रवीण खंडेलवाल और पश्चिमी दिल्ली से कमलजीत सहरावत को उम्मीदवार बनाया है।

लोकसभा चुनाव: दिल्ली में सुबह 11 बजे तक 21.69 प्रतिशत मतदान

सुबह-सुबह मतदान करने वालों में केंद्रीय मंत्री एस जयशंकर और हरदीप सिंह पुरी, दिल्ली की मंत्री आतिशी, पूर्वी दिल्ली के निवर्तमान सांसद गौतम गंभीर और विभिन्न दलों के उम्मीदवार शामिल रहे।

लोकसभा चुनाव : उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ और उनकी पत्नी ने भी किया मतदान

धनखड़ ने मतदान के बाद सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘‘लोकसभा चुनाव 2024 के लिए मतदान कर गर्व महसूस कर रहा हूं।

लोकसभा चुनाव के लिए दिल्ली में 60,000 पुलिसकर्मी और ड्रोन किए गए तैनात

दिल्ली पुलिस ने लोकसभा चुनाव के छठे चरण के तहत शनिवार को दिल्ली में शांतिपूर्ण, स्वतंत्र एवं निष्पक्ष मतदान सुनिश्चित करने के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की है और 60,000 से अधिक कर्मियों को तैनात किया है। अधिकारियों ने बताया कि नगर पुलिस उत्तर प्रदेश और हरियाणा की सीमा से लगे इलाकों में भी कड़ी… Continue reading लोकसभा चुनाव के लिए दिल्ली में 60,000 पुलिसकर्मी और ड्रोन किए गए तैनात

उत्तर प्रदेश की 14 लोकसभा सीट और एक विधानसभा सीट के लिए मतदान जारी

राज्य की 14 सीट पर लोकसभा चुनाव के साथ-साथ बलरामपुर की गैसड़ी विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए भी मतदान सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया जो शाम छह बजे तक होगा।