सरकार ने सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमत अगले साल मार्च तक हर महीने चार रुपये बढ़ाने की घोषणा की है. इसका मकसद मार्च, 2018 तक घरेलू सिलेंडरों पर मिलने वाली छूट को खत्‍म करना है. इस संबंध में पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सोमवार को लोकसभा में कहा, ''पिछले साल सरकार ने ऑयल कं‍पनियों को सब्सिडी पर मिलने वाले सिलेंडरों के दाम हर महीने 2 रुपये बढ़ाने का ऑर्डर दिया था लेकिन अब वह बढ़ोतरी चार रुपये कर दी है.'' इस तरह अगले साल मार्च तक सिलेंडर की कीमत 32 रुपये बढ़ जाएगी. उल्‍लेखनीय है कि अभी हर एलपीजी सिलेंडर कनेक्‍शन

1 जुलाई से देशभर में जी.एस.टी. लागू हो चुका है और अब इसका असर आम आदमी पर दिखने लगा है। जी.एस.टी. लागू होते ही घरेलू सिलेंडर के दाम बढ़ गए हैं जिससे आम आदमी को बड़ा झटका लगा है। अब लोगों को एल.पी.जी. सिलेंडर लेने के लिए 32 रुपए ज्यादा खर्च करने होंगे। जानकारी के मुताबिक, जी.एस.टी. के लागू होने से पहले कई राज्यों को एल.पी.जी. के लिए टैक्स नहीं देना होता था, लेकिन कुछ राज्यों में इस पर 2-4 प्रतिशत का वैट लगता था। लेकिन अब क्योंकि एल.पी.जी. को 5% के स्लैब में रखा गया है, तो इसकी कीमत में