कैप्‍टन सरकार तेजी से एक्‍शन में दिख रही है। एक बार फिर से सबकी नज़र अब 24 तारीख पर है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में उनके मंत्रिमंडल की दूसरी बैठक 24 मार्च को दोपहर 12 बजे होगी। इसके बाद उसी दिन दोपहर 2 बजे से पंजाब विधानसभा का सत्र भी आरंभ होगा। मंत्रिमंडल की बैठक में पंजाब विधानसभा के सत्र में राज्य सरकार की ओर से पेश किए जाने वाले वोट ऑन अकाउंट पर चर्चा की जाएगी और इसे मंजूरी दी जाएगी। इसके अलावा सरकार बैठक में कई नए एजेंडे भी रख सकती है। कैप्टन के पांच ओएसडी नियुक्त सीएम कैप्टन

पंजाब कैबीनेट मंत्री और अमृतसर ईस्ट से कांग्रेस विधायक नवजोत सिंह सिद्धू अपने हलके में कुछ अलग ही अंदाज में नजर आए। सिद्धू यहां अपने समर्थकों के साथ भंगड़ा करते दिखे। दरअसल, चुनाव से पहले सिद्धू ने अमृतसर की जनता से वादा किया था कि अगर वो यहां से कांग्रेस को विजयी बनाती है तो वो रतन सिंह चौक पर आकर भंगड़ा डालेंगे और अब सिद्धू ने अपना ये वादा पूरा किया है। आप भी देखें सिद्धू का ये अंदाज, क्लिक करें [embed]https://www.youtube.com/watch?v=AuGqPaHzcz0[/embed]

तरनतारन/अमृतसर सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के आदेश के बाद पंजाब पुलिस एक्शन में नजर आ रही है। हाल ही में पुलिस ने तरनतारन और अमृतसर से नशा तस्करों को काबू किया है। तनरतारन में पुलिस के सीआईए स्टाफ ने 250 ग्राम हेरोइन और 50 हजार की जाली करंसी समेत दो युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि नाकेबंदी के दौरान जब उनकी टीम ने एक कार को रोकने की कोशिश की, तो कार में बैठे लोगों ने वहां से भागने लगे, जिससे उनकी कार डिवाइडर से टकरा गई। जब पुलिस ने कार की चैकिंग की तो कार से करीब

चंडीगढ़/दिल्ली पंजाब में अमरिंदर सिंह सरकार में मंत्री बनाए गए नवजोत सिंह सिद्धू टीवी शो में काम करना जारी रख सकते हैं, लेकिन इसके लिए उन्हें दिए गए मंत्रालय में बदलाव किया जा सकता है. पिछले हफ्ते पंजाब में नई सरकार के शपथ लेने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने साफ कहा था कि वह मंत्री पद की जिम्मेदारी संभालने के साथ-साथ अपना टीवी करियर भी जारी रखना चाहते हैं. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बुधवार को संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने राज्य के अटॉर्नी जनरल अतुल नंदा से चर्चा की कि क्या सिद्धू वैधानिक रूप से किसी टीवी शो का हिस्सा बन सकते

दिल्ली पंजाब का मुख्यमंत्री बनने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह पहली बार दिल्ली पहुंचे. जहां, उन्होंने संसद भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात. वहीं, इससे पहले उन्होंने वित्तमंत्री अरुण जेटली से भी मुलाकात की थी. अरुण जेटली से मुलाकात के दौरान उन्होंने प्रदेश में गेंहू की खरीद का मुद्दा उठाया और कैश क्रेडिट लिमिट जारी करने के लिए अनुरोध किया, ताकि गेंहू की खरीद प्रदेश में सुचारू रूप से की जा सके. गौरतलब है कि पंजाब की मंडियों में 8 से 10 दिनों के भीतर गेंहू की फसल आनी शुरू हो जाएगी. प्रदेश के डिप्टी कमिश्नर से मुलाकात के दौरान भी सीएम

दिल्ली पंजाब में सत्ता संभालने के बाद पहली बार दिल्ली पहुंचे पंजाब सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की. इस दौरान पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल भी मौजूद रहे. अरुण जेटली से उनके आवास पर मुलाकात के दौरान कैप्टन अमरिंदर ने पंजाब के लिए CCL (नकद ऋण सीमा) जारी करने का अनुरोध किया, जिससे सुचारू रूप से गेहूं की खरीद की जा सके. https://twitter.com/capt_amarinder/status/844474439446085633 इसके बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह प्रधानमंत्री मोदी से संसद भवन स्थित उनके कार्यालय में मुलाकात करेंगे. वह शाम को राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से भी मुलाकात करेंगे. बहरहाल, इन बैठकों को

जालंधर के कस्बा भोगपुर में लूट के इरादे से एक बुजुर्ग NRI महिला की हत्या का मामला सामने आया है। 65 साल की सुरिंदर कौर दो महीने पहले ही अपने पति के साथ कनाडा से लौटीं थीं। पुलिस के मुताबिक बुजुर्ग महिला के सिर पर तेजधार हथियार से हमला किया गया, जिससे उनकी मौत हो गई। सुबह जब उनका रिश्तेदार मिलने पहुंचा तो वारदात का पता चला। फिलहाल पुलिस ने मृतक के रिश्तेदार के बयान पर मामला दर्ज कर लिया है।

मानसा विजिलेंस टीम ने जल रुाोत प्रबंधन और विकास निगम के एक्सईएन को रिश्वत  लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। दरअसल, एक्सईएन सुरेश कुमार गोयल ने ठेकेदार हरबंद सिंह से बिल पास करवाने के एवज में दो लाख तीस हजार रुपए की रिश्वत ली थी, इसके बाद एक्सईएन ने इसी काम के लिए एक लाख अड़तालीस हजार रुपए और रिश्वत की मांग की। ठेकेदार ने नगदी ना होने के वजह से चैक देने की पेशकश की। जब ठेकेदार ने एक्सईएन सुरेश कुमार गोयल को रिश्वत का चैक दिया तो विजिलेंस टीम ने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया। इसके अलावा टीम को

मोहाली के हाईप्रोफाइल हत्याकांड में एसएसपी कुलदीप सिंह चहल के नेतृत्व में एसआईटी गठित की गई है। हालांकि इस जांच में एसपी परमिंदर सिंह मंडाल की छुट्टी कर दी गई है, वो अब इस मामले की जांच नहीं करेंगे। वहीं एसएसपी कुलदीप सिंह चहल का कहना है कि इस मामले में एसआईटी गठित कर दी गई है, और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आरोपी सीरत दो दिन के पुलिस रिमांड पर हैं, और पुलिस सीरत से पूछताछ कर रही है। हालांकि, निमरदीप बरार का नाम एफआईआर में अभी भी शामिल नहीं किया गया है।