हरियाणा सरकार द्वारा पुलिस भर्ती के नियम बदलने के बाद हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने साढ़े 5 हजार पुलिस पदों पर चल रही भर्ती प्रक्रिया रद्द यह भर्ती रद्द कर दी है. आपको बता दें 4500 कांस्टेबल और 1035 महिला कांस्टेबल की भर्ती होनी थी, लेकिन नियम बदलने के बाद पुलिस विभाग के अनुरोध पर आयोग ने यह भर्ती प्रक्रिया रद की है. इस भर्ती के लिए इसी साल 28 जनवरी को प्रक्रिया शुरू की गई थी. अब नए नियमों के आधार पर यह भर्ती होगी. हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के चेयरमैन भारत भूषण भारती के अनुसार अब नए सिरे से विज्ञापन जारी होगा,

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल आज चंडीगढ़ स्थित हरियाणा निवास में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. इस दौरान सीएम मनोहर लाल अपने विदेश दौरे की जानकारी देंगे. मुख्यमंत्री मनोहर लाल शाम 4 बजे हरियाणा निवास में मीडिया के समक्ष अपने विदेश दौरे का रिपोर्ट कार्ड पेश करेंगे. उधर, 31 मई को कैबिनेट मीटिंग प्रस्तावित है, जिसके एजैंडे के बारे में भी विस्तृत विचार-विमर्श किया जाएगा. पूंजी निवेश की संभावनाओं को तलाशने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और उद्योग मंत्री विपुल गोयल की अगुवाई में एक शिष्टमंडल सिंगापुर और हांगकांग गया था. आपको बता दें कि सीएम कल ही विदेश दौरों से दिल्ली लौटे हैं.

हरियाणा में मेडिकल के पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रम (एमएसएमडी) की अधिसूचना पर प्रवेश परीक्षा मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपनी बहस पूरी करके फैसला सुरक्षित रखा लिया। यह मामला, ग्रामीण और दूर-दूराज के इलाको में काम करने वाले एमबीबीएस डाक्टरों को पीजी पाठ्यक्रम मे प्रवेश में अंको की वरीयता देने का है। हाईकोर्ट ने दूर दराज और ग्रामीण इलाकों में काम करने वाले एमबीबीएस डाक्टरों को पीजी प्रवेश में वरीयता देने की पांच मई 2017 की अधिसूचना रद्द करते हुए कहा था कि यह जो लिस्ट तैयार की गयी है, वो ठीक नहीं है। इसमें हरियाणा के 55 से 60 फीसद इलाके

फतेहाबाद पुलिस की ओर से लिंग जांच के झूठे मामले में फंसाकर पैसे हड़पने के मामले में हिसार रेंज के आईजी ने कार्रवाई की है। आईजी ने चार पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के मामले में संज्ञान लेने के बाद पुलिस ने फौरन कार्रवाई की है। दरअसल, पीड़ित ने मामले से जुड़े सबूत के तौर पर पुलिसकर्मियों की रिश्वत लेते वीडियो सौंपा था। पीड़ित का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने उसे झूठे केस में फंसाने के नाम पर पंद्रह लाख रूपए एेंठे थे।

हरियाणा स्कूल शिक्षा बोर्ड की 10वीं की परीक्षाओं में टॉपर्स लिस्ट में हुई गड़बड़ी के मामले में जिन कर्मचारियों को बोर्ड ने हटाना का फैसला लिया था, अब वो वापस ले लिया गया है। दरअसल, जांच में पता चला है कि टॉपर्स की लिस्ट में हुई गड़बड़ी बोर्ड की नहीं बल्कि रिजल्ट तैयार करने वाली फर्म की ओर से की गई थी। अब जब ये साफ हो गया है कि गलती किसकी है तो बोर्ड ने दोनों कर्मचारियों का निलंबन वापस ले लिया है। साथ ही रिजल्ट तैयार करने वाली फर्म पर जुर्माना लगाया गया है।

रेवाड़ी जिले के एक श्मशान घाट के पास एक खेत की मिट्टी से हांडी में करीब 100 सिक्के मिले हैं. सभी सिक्कों का वजन 14 ग्राम है. इन सिक्कों पर उर्दू व फारसी भाषा में 1152, अहमदशाह बादशाह, महासू 33 तथा 161, टाज सा गाज लिखा हुआ है, इन्हें अहमदशाह अब्दाली के कार्यकाल के सिक्के माना जा रहा है. कुछ सिक्के चांदी के तो कुछ सोने के बताए जा रहे हैं. मामला सामने आते ही बुधवार को राजस्व विभाग के सचिव और कर्मचारी मौके पर पहुंचे. उन्होंने इन सिक्कों से संबंधित जानकारी ली और डीसी को इस मामले में अपनी रिपोर्ट भेजी.

रिटायरमेंट की उम्र को लेकर बनी हरियाणा कैबिनेट की सब कमेटी की चंडीगढ़ में अहम बैठक हुई। वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु की अध्यक्षता में ये सब कमेटी गठित की गई है। सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों की रिटायारमेंट की उम्र सीमा 58 से 60 करने पर कमेटी विचार कर रही है ।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल इन दिनों पांच दिन के विदेश दौरे पर हैं। जहां वो प्रतिनिधिमंडल के साथ हरियाणा में निवेश को बढ़ावा देने के मकसद से कारोबारियों से मुलाकात कर रहे हैं। आज उनके विदेश दौरे का चौथा दिन है। सीएम आज भी कई बड़े कारोबारियों से मुलाकात करेंगे।  

फतेहाबाद के मताना गांव में एक सरकारी स्कूल के क्लर्क द्वारा 3 छात्राओं को पीटने का मामला सामने आया है. स्कूल की तीन छात्राओं ने क्लर्क पर धमकाने और पिटाई करने का आरोप लगाया है. इसके बाद गुस्साए ग्रामीण आरोपी क्लर्क के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं. उनका आरोप है कि स्कूल के क्लर्क ने सातवीं क्लास की तीन छात्राओं की पिटाई की है और उन्हें धमकाया है. इसके बाद इस मामले में स्कूल के इंचार्ज का कहना है कि ग्रामीणों पर कार्रवाई करने के लिए उच्च अधिकारियों को रिपोर्ट भेजने की तैयारी की जा रही है.      

गुरुग्राम में लॉटरी के नाम पर फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह का खुलासा हुआ है। साइबर क्राइम ने गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है। एक पीड़ित की शिकायत पर जांच करते हुए पुलिस को ये कामयाबी मिली है। गिरोह के सदस्यों पर आरोप है कि पीड़ित को झांसा देकर इन्होंने करीब 11 लाख रुपये अपने खाते में जमा करवाए थे। पुलिस के अनुसार आरोपियों में शामिल नीरज दिल्ली का और नरेश फरीदाबाद का रहने वाला है।