CM शिंदे ने उप मुख्यमंत्रियों के साथ की बैठक, BJP नेता समीक्षा बैठक के लिए दिल्ली रवाना

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार के साथ देर रात बैठक की जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी के कुछ नेता समीक्षा बैठक के लिए दिल्ली रवाना हो गए। बैठक के बारे में ज्यादा जानकारी हासिल नहीं हो पाई है

सरकार गठन से पहले आज होगी NDA की बैठक

सूत्रों ने बताया कि जनता दल (यूनाइटेड) नेता एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू भी इस बैठक में शामिल होंगे।

मुंबई: घाटकोपर होर्डिंग हादसे में 14 लोगों की मौत, 18 घंटे से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

सोमवार को मुंबई में धूल भरी आंधी और बेमौसम तेज बारिश के दौरान घाटकोपर इलाके में एक पेट्रोल पंप पर 100 फुट लंबा अवैध बिलबोर्ड गिर गया।

मुंबई: मुख्यमंत्री शिंदे ने होर्डिंग गिरने की घटना में जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया

शिंदे ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। सरकार इसकी जांच कराएगी और जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई होगी। मैंने बीएमसी आयुक्त से शहर के सभी होर्डिंग का ढांचागत ऑडिट कराने को कहा है।’’

कश्मीर में बनेगा महाराष्ट्र भवन : मुख्यमंत्री शिंदे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा है कि केंद्र के सहयोग से जम्मू-कश्मीर में महाराष्ट्र भवन बनाया जाएगा।

शिंदे ने बुधवार को महाराष्ट्र के अमरावती जिले में एक रैली में यह दावा किया।

उन्होंने कहा कि नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने कश्मीर में महाराष्ट्र भवन के निर्माण का विरोध किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ राज्य सरकार को महाराष्ट्र भवन के निर्माण के लिए कश्मीर में जमीन मिल गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह हमारे साथ हैं। इसलिए कोई भी इसका विरोध करने की हिम्मत नहीं करेगा।’’

शिंदे ने जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से घाटी में आने वाले राज्य के पर्यटकों और अधिकारियों के लिए आवास संबंधी सुविधाएं प्रदान करने के उद्देश्य से महाराष्ट्र भवन के निर्माण के वास्ते भूमि देने का अनुरोध किया था।

महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने पिछले महीने महाराष्ट्र भवन के निर्माण के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी जिससे संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों के निरस्त होने के बाद घाटी में पहला राज्य-संचालित अतिथि गृह बनने का रास्ता साफ हो गया है।

शिंदे ने विपक्षी महा विकास आघाडी पर भी निशाना साधा और कहा कि जब महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार सत्ता में थी तो कई परियोजनाएं रुकी हुई थीं जिन्हें अब सत्तारूढ़ सरकार ने फिर से शुरू कर दिया है।

कांग्रेस एक ऐसी बेल है, जो उसे सहारा देता हैं वो उसे ही सुखा देती है- PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि सरकार देश में गरीबों के लिए तीन करोड़ घर बनाएगी। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि उन्होंने गरीबी का जीवन जिया है और गरीबों के दर्द को समझा है।

बॉलीवुड अभिनेता गोविंदा की राजनीति में वापसी, शिवसेना (शिंदे गुट) में हुए शामिल

गोविंदा 2004 में बड़े नेता के रूप में उभरे थे जब उन्होंने मुंबई उत्तर लोकसभा सीट पर बतौर कांग्रेस उम्मीदवार बीजेपी के दिग्गज नेता राम नाइक को हराया था।

शरद पवार ने CM शिंदे और उप-मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, अजित पवार को भेजा दोपहर के भोजन का निमंत्रण

गौरतलब हो कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में फूट पड़ने के बाद शरद पवार ने पहली बार मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और दोनों उप-मुख्यमंत्रियों को आमंत्रित किया है। सीएम शिंदे को लिखे आमंत्रण पत्र में पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार ने कहा कि वह और उनकी बेटी सांसद होने के नाते इस सरकारी कार्यक्रम में शामिल होना चाहते हैं।

महाराष्ट्र विधानसभा में निर्विरोध पारित हुआ ‘मराठा आरक्षण’, CM शिंदे बोले- ‘किसी के साथ नहीं होगा अन्याय’

सीएम शिंदे ने आगे कहा, ‘इस काम में उन कानूनी विशेषज्ञों की भी मदद ली जा रही है, जिन्होंने हाई कोर्ट में मराठा आरक्षण की जोरदार वकालत की है। इसके लिए एक टास्क फोर्स का भी गठन किया गया है। हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट और अन्य न्यायिक स्तरों पर मराठा समुदाय का आरक्षण कैसे बरकरार रखा जाएगा, इस पर सरकार और आयोग के बीच समन्वय बनाया गया’।

मुख्यमंत्री शिंदे और उप मुख्यमंत्रियों ने छत्रपति शिवाजी महाराज को जयंती पर श्रद्धांजलि दी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के साथ-साथ उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार ने सोमवार को पुणे के शिवनेरी किले में छत्रपति शिवाजी महाराज को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की।

महान मराठा योद्धा राजा का जन्म 1630 में जिले की जुन्नार तहसील के शिवनेरी में हुआ था।

शिंदे और दोनों उपमुख्यमंत्रियों ने इस अवसर पर किले में ‘पालना समारोह’ सहित विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लिया।

श्रद्धांजलि देने के लिए दिन भर शिवाजी के अनुयायियों के बड़ी संख्या में एकत्रित होने की उम्मीद है।