पैसा कमाने के लिए कुवैत गए 10 नौजवान पिछले दो साल से जेल में कैद हैं। उनके परिजन इंसाफ के लिए भटक रहे हैं। कोई भी उनकी मदद नहीं कर रहा। कुवैत की एक कंपनी में मजदूरी करने गए पंजाब के विभिन्न जिलों के 10 नौजवानों का मिस्र के मजदूरों के साथ झगड़ा हो गया था। इसके बाद उनको स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल में डाल दिया था। दो साल बीत जाने के बाद भी संतोख सिंह पुत्र सुरिन्दर सिंह निवासी कपूरथला, रुलरु राम पुत्र दर्शन राम निवासी बडला, गुरप्रीत सिंह पुत्र सुखदेव सिंह निवासी मोगा, तरसेम पुत्र शिंगारा राम

पंजाब विधानसभा चुनावों में महज छह महीने बाकी रह गए है। ऐसे में पंजाब की राजनीति में रोज कोई ना कोई बड़ा धमाका होता है। आम आदमी पार्टी के पंजाब कन्वीनर सुच्चा सिंह छोटेपुर को पद से हटाने के बाद बैकफुट पर आई 'आप' के लिए अच्छी खबर है। कांग्रेस से निष्कासित पूर्व सांसद जगमीत सिंह बराड़ ने बिना शर्त आप में शामिल होने का एलान कर दिया है। फिरोजपुर में पत्रकारों से बातचीत में बराड़ ने कहा कि वे आम आदमी पार्टी में बिना शर्त जाने को तैयार हैं। जगमीत बराड़ ने कहा कि उसने अभी आम आदमी पार्टी ज्वाइन

मुख्यमंत्री बादल की अध्यक्षता में पंजाब कैबिनेट की बैठक हुई, जिसमें विधानसभा सेशन की तारीख तय की गई। साथ ही कई अहम फैसले लिए गए। आगामी पंजाब विधानसभा सत्र की तिथि तीसरी बार बदल दी गई है। पंजाब भवन में हुई कैबिनेट बैठक में 14वीं विधानसभा का 13वां सत्र 8 से 14 सितंबर तक बुलाए जाने की स्वीकृति दे दी गई। मुख्यमंत्री कार्यालय के प्रवक्ता के अनुसार आठ सितंबर को दोपहर दो बजे श्रद्धांजलि के साथ सत्र आरंभ होगा और 14 सितंबर तक चलेगा। इससे पहले यह सत्र पांच सितंबर से आयोजित होना था, जिसे बाद में बढ़ाकर 19 सितंबर कर

आम आदमी पार्टी में सूबा कनवीनर सुच्चा सिंह छोटेपुर को हटाने के बाद से अंदर ही अंदर उठ रहे बगावती सुर आखिर खुलकर सामने आ गए। पार्टी के छह जोनल कोऑर्डिनेटरों ने पार्टी के ही मोहाली दफ्तर में बैठक कर छोटेपुर के पक्ष में प्रस्ताव पास किया। उन्होंने पार्टी हाईकमान को एक सितंबर तक का अल्टीमेटम दिया दिया है, उसके बाद अगली रणनीति तय करेंगेे। आप में जोनल कोऑर्डिनेटर के पास एक लोकसभा हलके की जिम्मेदारी होती है। बैठक में छह जोनल कोऑर्डिनेटर शामिल हुए। इनमें बठिंडा के नरिंदर सिंह भगता भाइके, अमृतसर के गुरिंदर बाजवा, जालंधर के एचएस चीमा, गुरदासपुर के

विदेश जाने की इच्छा और आइलेट्स पूरी करने का खर्चा निकालने के लिए एक युवक ने अपने साथी के साथ नशीला पदार्थ सप्लाई करने का धंधा शुरु कर लिया। आरोपी उस समय पकड़े गए जब आरोपी किसी को नशीला पदार्थ सप्लाई करने के लिए जा रहे थे। एंटी नार्कोटिक्स विभाग की पुलिस ने दोनों आरोपियों को इंजन शेड के पास गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपियों के कब्जे से 150 ग्राम हेरोइन बरामद हुई। पुलिस ने इस मामले में सतजोत नगर के रहने वाले निखिल शर्मा और कुणाल शर्मा के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों

आम आदमी पार्टी के लीगल सेल के प्रमुख ने बड़ा दावा किया और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर लगे आरोपों को सिरे से नकार दिया। लीगल सेल के प्रमुख हिम्मत शेरगिल ने कहा है कि पूर्व सूबा कन्वीनर सुच्चा सिंह छोटेपुर के खिलाफ पार्टी के पास पर्याप्त सबूत हैं। खुद छोटेपुर ने भी स्वीकार कर लिया है कि उन्होंने पैसे लिए थे। इसीलिए उन पर कार्रवाई की गई। अपने निवास पर पत्रकारों से बातचीत में शेरगिल ने कहा कि छोटेपुर के खिलाफ काफी समय से शिकायतें थीं कि वह बिना रसीद दिए चंदा ले रहे हैं। पर पहले कोई सबूत नहीं था,

पंजाब प्रदेश कांग्रेस प्रधान कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल पर जमकर बरसे और उनकी सरकार को निकम्मा करार दिया। उन्होंने कहा है कि कर्ज माफी पर सीएम प्रकाश सिंह बादल किसानों को गुमराह कर रहे हैं। वह कह रहे हैं कि कोई सरकार किसानों का कर्ज माफ नहीं कर सकती। उन्होंने दोहराया कि कांग्रेस सरकार किसानों के कर्ज माफ करेगी। कैप्टन ने कहा कि अगर बादल किसानों को राहत देने के काबिल नहीं हैं तो इसका अर्थ यह नहीं निकलता कि कोई ऐसा नहीं कर सकता। राज्य केसिर पर सवाल लाख करोड़ का कर्ज चढ़ाने वाले बादल से कर्ज

रियो ओलंपिक में दो मेडल आने पर देश खुश हो रहा है। वहीं, कई देश ऐसे भी हैं जिनके के एक खिलाड़ी कई मेडल जीत कर अपना जलवा दिखा चुके है। यह कहना है उड़न सिख के नाम से जाने वाले मिल्खा सिंह का। उड़न सिख के नाम से मशहूर मिल्खा सिंह ने रियो ओलंपिक 2016 में खिलाड़ियों के लाचार प्रदर्शन पर अपनी नाखुशी जाहिर करते हुए कहा कि अब हमें पुराने खिलाड़ियों पर निर्भर नहीं रहना चाहिए। लिएंडर पेस, अभिनव बिंद्रा, सानिया मिर्जा का कैरियर ढलान पर है। अब समय आ गया है कि हम नए बच्चों को आगे लाएं।

उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल जलालाबाद हलके से चुनाव नहीं लड़ना चाहते हैं क्योंकि यहां आम आदमी पार्टी को समर्थन मिल रहा है। सुखबीर जिस भी हलके से चुनाव लड़ेंगे वहां से उनकी हार निश्चित है। इस बार अकाली दल चुनाव में पैसों की बरसात करेगा। यह बात आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने रविवार को अनाज मंडी में आयोजित इलाका तेरा-धमाका मेरा रैली को संबोधित करते हुए कही। कहा कि राज्य में बेरोजगारी, कैंसर, चिट्टा, महंगाई का बोलबाला है लेकिन अकालियों को इसकी फिक्र नहीं है। आम आदमी पार्टी आम लोगों की पार्टी है और इस पार्टी को जनता