हरियाणा सरकार अफसरों की कमी से जूझ रही है। एक-एक अधिकारी पर काम का अतिरिक्त बोझ डाल दिया गया है। एक अधिकारी दो महत्वपूर्ण विभागों का जिम्मा देख रहे हैं। उन्हें एक-एक तीसरा विभाग और थमा दिया गया है। इसकी बानगी इसी सप्ताह हुए तबादलों में दिख चुकी है। अब सरकार एक और सूची निकालने की तैयारी में है। अधिकारियाें की कमी का यह आलम है कि इस साल सात-आठ आईएएस अधिकारी सेवानिवृत्त हो रहे हैं। इनमें से केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर गए अजीत मोहन शरण 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो चुके हैं, जबकि केंद्र में कार्यरत 1980 बैच के अशोक

पिछले कई दिनों से पंजाब यूनिवर्सिटी में बिगड़े माहौल के बीच पंजाब के राज्यपाल वीपी बदनौर ने कड़े तेवर दिखाए हैं। हिंसक घटना के बाद राज्यपाल की तरफ से आदेश जारी किया गया है कि पीयू हिंसा में जो निर्दोष स्टूडेंट्स फंसे हैं, उनके लिए एक कमेटी बनाई जाए, कमेटी रिव्यू कर निर्दोष छात्र-छात्राओं की डिटेल दे, ताकि निर्दोष विद्यार्थी इस झंझट से बाहर आ सकें. राज्यपाल ने फीस कैसे कम की जाए, इस पर भी बैठक करने को कहा है। पंजाब के राज्यपाल बदनौर ने वीसी प्रोफेसर अरुण कुमार ग्रोवर सहित यूटी के तमाम अधिकारियों को तलब किया और पंजाब

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में वीआईपी सुरक्षा के मुद्दे पर समीक्षा करने के लिए उन्नीस अप्रैल को चंडीगढ़ में एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। बैठक में राज्य के डीजीपी सुरेश अरोड़ा समेत कई सीनियर अफसर शामिल होंगे। गौरतलब है कि जब से पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार आई है तब से सरकार ने वीआईपी सुरक्षा को लेकर बड़े पैमाने पर कटौती की है। ताकि ज्यादा से ज्यादा पुलिस कर्मियों को नागरिक सुरक्षा और दूसरे कई अहम स्थानों पर तैनात किया जा सके।

चंडीगढ़ पंजाब यूनिवर्सिटी में फीस बढ़ोतरी को लेकर हुए हंगामे के दौरान गिरफ्तार किए गए 53 छात्रों को चंडीगढ़ की जिला अदालत में पेश किया गया. जहां, कोर्ट ने सभी आरोपियों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. पेशी के दौरान बार एसोसिएशन के वकीलों ने कोर्ट में जाकर छात्रों का समर्थन किया. इस दौरान हरियाणा और पंजाब के वकील शामिल थे. इन वकीलों ने छात्रों की जमानत के लिए याचिका दायर की, जिसपर सुनवाई 15 अप्रैल को होगी. वहीं, सुनवाई के दौरान कोर्ट ने हिरासत में छात्रों के साथ मारपीट के मामले को लेकर डॉक्टरों की दो सदस्यीय कमेटी बनाई

हरियाणा में रोडवेज बसों का चक्का जाम जारी है। आज भी रोडवेज की बसे नहीं चलेंगी। हड़ताल को लेकर मंगलवार को चंडीगढ़ में परिवहन विभाग और परिवहन मंत्री के साथ कर्मचारियों की बैठक भी हुई थी लेकिन ये बैठक बेनतीजा रही और रोडवेज कर्मचारियों ने हड़ताल जारी रखने की घोषणा कर दी है। कर्मचारियों का कहना है कि सरकार ट्रांस्पोर्ट पॉलिसी को वापस लेने के लिए तैयार नहीं जब तक सरकार पॉलिसी को वापस नहीं लेती तब तक हड़ताल जारी रहेगी। वहीं, परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि सरकार के दरवाजे बातचीत के लिए खुले हैं।

मोहाली सुप्रीम कोर्ट द्वारा तमाम दिशा-निर्देशों के बावजूद छात्रों की सुरक्षा को लेकर स्कूल प्रबंधक सतर्क नजर नहीं आ रहे. वहीं, मोहाली में छात्रों की जिंदगी से खिलवाड़ करने की लापरवाही सामने आई है. यहां एक स्कूल वैन चालक नशे की हालत में ड्राइविंग कर रहा था और स्कूल वैन में छात्र बैठे थे, लेकिन चालक को इसकी परवाह नहीं थी. गनीमत ये रही कि स्थानीय लोगों ने रश ड्राइविंग करते देख ड्राइवर को पकड़ लिया और पूरे मामले की सूचना पुलिस को दे दी. जिसके बाद पुलिस ने ड्राइवर को हिरासत में ले लिया.. वहीं, लोगों से घिरे ड्राइवर ने माहौल बिगड़ते देख

चंडीगढ़ पंजाब यूनिवर्सिटी के छात्रों और पुलिस के बीच मंगलवार को जमकर झड़प हुई. बताया जा रहा है कि यूनिवर्सिटी द्वारा फीस बढ़ोतरी किए जाने का छात्र विरोध कर रहे हैं. मंगलवार को भी छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए सुरक्षा के मद्देनजर विश्वविद्यालय परिसर में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई थी. वहीं प्रदर्शन कर रहे छात्रों को जब पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो छात्रों ने पथराव शुरू कर दिया. वहीं, छात्रों द्वारा किए गए पथराव में कई पुलिसकर्मियों को गंभीर चोटें आईं हैं. जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने हालात पर काबू पाने के लिए बल प्रयोग किया और छात्रों को

कॉमेडियन कपिल शर्मा के शो में पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू के 'ठहाकों' और जुमलों पर अब एक और नया विवाद खड़ा हो गया है। सीनियर एडवोकेट एचसी अरोड़ा ने मुख्य सचिव को पत्र लिख कर आरोप लगाया है कि आठ अप्रैल को प्रसारित शो के दौरान सिद्धू ने अश्लील जुमले बोले। वहीं, सिद्धू ने इसे नकारते हुए कहा कि अगर शो में अश्लीलता होती तो यह नंबर वन नहीं होता। अमर उजाला से बातचीत में सिद्धू ने कहा कि हाथी चले बीच बाजार, आवाजें आएं एक हजार। उनके शो करने को लेकर किसी तरह की समस्या नहीं है। एडवोकेट जनरल

चंडीगढ़ चंडीगढ़ के सेक्टर 38 में कार सवार हमलावरों ने होशियारपुर के खुर्दा गांव के सरपंच सतनाम सिंह पर फायरिंग कर दी. इस फायरिंग में सरपंच सतनाम सिंह गंभीर रूप से घयाल हो गए. जिसके बाद उन्हें घायल हालत में पीजीआई में भर्ती करवाया गया. [caption id="attachment_26910" align="alignnone" width="600"] जानकारी के मुताबिक लुधियाना नंबर की आई 20 कार में सवार तीन हमलावरों ने सरपंच पर सात फायर किए. पुलिस इस मामले को पुरानी रंजिश से जोड़कर देख रही है. अभी तक पुलिस को हमलावरों का कोई सुराग हाथ नहीं लगा है.[/caption]

हरियाणा में दो हत्‍याकांड में अदालत ने 25 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। इन लोगों को जुर्माने भी किया। यमुनानगर के मोहित राणा हत्याकांड में अदालत ने 14 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई। सभी दोषियों पर 25-25 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। इसी तरह सिरसा में एक किसान की हत्‍या के मामले में अदालत ने 11 लोगों को उम्रकैद आैर 30-30 हजार रुपये की सजा सुनाई है। माेहित राणा हत्‍याकांड में 14 को उम्रकैद यमुनानगर की अदालत ने मोहित राणा हत्‍याकांड में 14 आराेपियों को 3 अप्रैल को दोषी करार दिया था।  27 नवंबर 2013 को