अंतर्राष्ट्रीय आतंकी गिरोह अल कायदा के संदिग्ध आतंकी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है। आतंकी का नाम रजा उल अहमद बताया जा रहा है। आतंकी बांग्लादेश में अल कायदा की ब्रांच अंसारुल्ला बांग्ला टीम का सदस्य है। 15 अगस्त से पहले आतंकी की गिरफ्तारी काफी अहम मानी जा रही है। जानकारी के मुताबिक रजा उल अहमद को अलकायदा ने खास भारत के बड़े शहरों को टारगेट करने का जिम्मा सौंपा था। उसके दो और साथी हैं, जिनमें से एक उत्तर प्रदेश के मुजफ्फनगर से गिरफ्तार हो चुका है, जबकि देवबंद-सहारनपुर का रहने वाला फैजान फरार अभी

आतंकवाद के खिलाफ यूपी एटीएस को बड़ी कामयाबी मिली है. यूपी के मुजफ्फरनगर से एटीएस ने कथित तौर पर एक बांग्लादेशी आतंकी को गिरफ्तार किया है. हत्थे चढ़ा शख्स आतंकियों को फर्जी पहचान संबंधी दस्तावेज मुहैया करवाता था. एटीएस के हत्थे चढ़े आतंकी का नाम अब्दुल्ला है. अब्दुल्ला बांग्लादेश के आतंकी संगठन 'अंसारउल्लाह बांग्ला' से जुड़ा हुआ है. अब्दुल्ला 2011 से मुजफ्फरनगर में रह रहा था. वह आतंकियों के पहचान संबंधी फर्जी दस्तावेज बनवाकर उन्हें मुहैया करवाता था. अब्दुल्ला के पास से उसका आधार कार्ड और पासपोर्ट बरामद किया गया है. अब्दुल्ला पर आतंकियों को शरण देने का भी शक है. बताया

श्रीनगर भारतीय सेना ने रविवार को उत्तर कश्मीर के पुलवामा जिसे में स्थित माछिल सेक्टर में आतंकियों की घुसपैठ को नाकाम कर दिया है. सेना ने इस दौरान एक आतंकी को मार गिराया है. सेना के प्रवक्ता ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि घुसपैठ की कोशिश कर रहे एक आतंकी को सेना ने मार गिराया है. इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है. वहां और आतंकियों के छिपे होने और मारे जाने की आशंका है. पिछले 6 महीने में जम्मू कश्मीर में 100 से अधिक आतंकी मारे जा चुके हैं. गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से सीमा पर तनाव का माहौल

जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा पर हुए आतंकी हमले के बाद हरियाणा में भी हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। सावन का महीना लग चुका है. धर्मनगरी हरिद्वार से हरियाणा के रास्ते विभिन्न राज्यों में अब कांवड़ियों का आना-जाना शुरू हो चुका है, जिसके चलते सुरक्षा व्यवस्था की जानी जरूरी थी। सूबे में हाई अलर्ट जारी हुआ और एक-दो जगह को छोड़कर चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात कर दी गई है. बता दें कि सोमवार रात को जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले में गुजरात के रहने वाले 7 लोग मारे गए, जो अमरनाथ यात्रा पर निकले थे. इस घटना के बाद पुलिस के कान खड़े

जम्मू जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों ने आतंकियों की नापाक कोशिश को नाकाम कर दिया है. सुरक्षा बलों ने गुरेज सेक्टर में घुसपैठ कर रहे आतंकियों को भगा दिया. इस दौरान एक घुसपैठिया जवानों की फायरिंग में मारा गया. वहीं, जवानों को घुसपैठिये के पास से एक हथियार भी बरामद भी हुआ. फिलहाल ऑपरेशन जारी है. वहीं, जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में आतंकी हमला हुआ. अनंतनाग में आतंकियों ने सुरक्षा बलों को निशाना बनाया और उनकी गाड़ी पर फायरिंग की. फायरिंग काजीगुंड में हुई. इस दौरान एक कार सवार नागरिक घायल हो गया. आतंकी हमले में सुरक्षाबल के जवान सुरक्षित हैं. जवाबी कार्रवाई

ब्रिटेन की राजधानी लंदन में हुए एक के बाद एक हमलों की जिम्मेदारी कुख्यात आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) ने ली है. इन हमलों में 7 लोग मारे गए और कई लोग घायल हुए हैं. आपको बता दें कि शनिवार को लंदन हमले को इस्लामिक स्टेट के सेनानियों की एक टुकड़ी ने अंजाम दिया. इन हमलों के बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए न सिर्फ 3 संदिग्धों को मार गिराया, बल्कि 14 लोगों को गिरफ्तार भी किया है. मौके पर मौजूद चश्मदीद ने बताया कि वैन की रफ्तार 50 मील से ज्यादा की थी. हमलावरों ने हमला करने से पहले

जम्मू-कश्मीर में  LoC पर सतर्क सुरक्षाबलों ने एक बार फिर पाक की एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है. जानकारी के मुताबिक LoC से सटे पुंछ जिले में घुसपैठ की कोशिश कर रहे एक घुसपैठिए को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है. जानकारी के अनुसार सुरक्षाबलों द्वारा रविवार सुबह नियंत्रण रेखा के रास्ते पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ कर रहे एक शख्स को मार गिराया गया है. हालांकि सुरक्षाबलों की कार्रवाई के बाद घुसपैठिये की शिनाख्त के विषय में अब तक किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं मिल सकी है.

वॉशिंगटन अमेरिकी खुफिया एजेंसी फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआई) की पूरी दुनिया में भारी किरकिरी हो रही है, क्योंकि उसके एक टॉप-सीक्रेट जासूस ने आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के उस आतंकी से शादी कर ली, जिसकी जांच के लिए एजेंसी ने उसे तैनात किया था. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एफबीआई की बागी हो चुकी जासूस डेनिएला ग्रीन 2014 में टॉप-सीक्रेट क्लियरेंस के बाद सीरिया गयी थी. उसका काम आतंकी डेनिस कसपर्ट उर्फ अबु ताल्हा अल-अलमानी की जांच करना था. डेनिस कसपर्ट जर्मनी का नागरिक है और आतंकी बनने से पहले वो एक रैपर था. अमेरिकी समाचार संस्था सीएनएन के अनुसार कसपर्ट इंटरनेट पर