दिल्ली चुनाव आयोग ने शनिवार को बहुचर्चित ईवीएम चैलेंज का आयोजन किया जिसमें केवल सीपीएम और एनसीपी ही पहुंची. ईवीएम हैकिंग चैलेंज में किसी भी पार्टी ने हिस्सा नहीं लिया लेकिन मशीन के तमाम सुरक्षा इंतजामों के विस्तृत जानकारी ली. कार्यक्रम की जानकारी देते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने कहा कि आयोग चुनाव प्रक्रिया में पारदर्शिता स्थापित करने के लिए आगे से सभी चुनावों में VVPAT का इस्तेमाल करेगा. नसीम जैदी ने EVM पर विश्वास जताते हुए कहा, 'इसे हैक नहीं किया जा सकता और इसमें छेड़छाड़ भी संभव नहीं है. इसके परिणाम बदले नहीं जा सकते.' उन्होंने बताया कि चैलेंज

चंडीगढ़ पंजाब यूनिवर्सिटी के 13वें एनुअल नेशनल कांफ्रेंस ऑन इलेक्टॉरल एंड पोलिटिक्ल रिफॉर्म्स में हिस्सा लेने चंडीगढ़ आए भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने आगामी चुनाव को लेकर बयान दिया है. उन्होंने कहा कि भारत में आने वाले सभी चुनाव वीवीपैट मशीनों से कराए जाएंगे. ईवीएम मशीनों पर उन्होंने कहा कि जल्द ही हम एक ऑल पार्टी मीटिंग बुलाने जा रहे हैं, जिसमें सभी राजनैतिक पार्टियों को समझाया जाएगा की ईवीएम मशीने नॉन टेम्पर हैं और उनसे छेड़खानी नहीं की जा सकती.