Republic Day पर भारत दिखाएगा अपनी ताकत, इन खतरनाक भारतीय हथियारों को देख आंख दिखाने से भी हिचकेंगे दुश्मन

गणतंत्र दिवस (Republic Day) 26 जनवरी को भारत हर साल की तरह इस साल भी अपनी ताकत पूरी दुनिया को दिखाएग। गणतंत्र दिवस के अवसर पर हर साल कर्तव्य पथ पर परेड होती है जहां भारतीय सेना के थल सेना, वायु सेना और नौसेना (Navy) तीनों सेनाएं अपनी-अपनी ताकत और हथियारों को प्रदर्शित करते हैं। इस साल परेड में स्वदेशी रूप से विकसित हथियारों के प्रदर्शन पर जोर रहेगा इसलिए इस बार की परेड बेहद खास होने वाली है। आपको बता दें कि इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी विशेष अतिथि के रूप में मौजूद होंगे। आइए जानते हैं कि गणतंत्र दिवस 2023 की परेड में भारतीय सेना किस-किस हथियारों का करने वाली है प्रदर्शन।

भारतीय सेना के बयान अनुसार इस बार गणतंत्र दिवस परेड में आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत देश में ही निर्मित अर्जुन टैंक, नाग मिसाइल सिस्टम, K9 वज्र और आकाश वेपन सिस्टम का प्रदर्शन किया जाएगा।


1- अर्जुन टैंक- DRDO ने अर्जुन टैंक की विशेषताएं बताते हुए कहा कि अर्जुन टैंक एक बेहतर अग्नि शक्ति, हाई मोबिलिटी और उत्कृष्ट सुरक्षा वाला एक अत्याधुनिक टैंक है इस टैंक एक 120 mm की बंदूक लगी हुई है जो किसी भी टैंक में लगे सुरक्षा कवच को मात दे सकती है।

2 – नाग मिसाइल- देश में ही विकसित नाग मिसाइल सिस्टम भी इस बार कर्तव्य पथ पर भारत की सुप्रीम कमांडर राष्ट्रपति को सलामी देता हुआ नजर आएगा। इस मिसाइल की विशेषता की बात करें तो यह बीएमपी 2 कैरियर पर लगा है। ये मिसाइल सिस्टम फायर एंड फॉरगेट टॉप अटैक टेकनीक पर आधारित है यह 4 किलोमीटर के दायरे में मौजूद किसी भी टैंक के परखच्चे उड़ाने में सक्षम है।

3- K9 वज्र- गणतंत्र दिवस के मौके पर कर्तव्य पथ पर होने वाली परेड में इस साल के9 वज्र को भी शामिल किया गया है। K-9 की खास बात यह है कि ये फायर के बाद अपनी जगह तुरंत बदल लेता है जिसके कारण यह दुश्मन के टारगेट से बच भी जाता है। यह 40 मीटर के दायरे में मौजूद दुश्मन के किसी भी हथियार को नष्ट करने की क्षमता रखता है।

The ‘Akash’ super sonic cruise missile with a range of 25km, passes through the Rajpath during the 58th Republic Day Parade – 2007, in New Delhi on January 26, 2007.

4- आकाश मिसाइल- इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर होनी वाली परेड में आकाश मिसाइल सिस्टम भी अपनी शक्ति दिखाने के लिए तैयार है गौरतलब है कि इस मिसाइल को आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत DRDO और भारत डायनेमिक्स ने संयुक्त रूप से निर्मित किया है। यह सिस्टम मोबाइल प्लेटफॉर्म पर पूरी तरह से कॉन्फिगर है।

Leave a comment