मोगा के तारे वाला गांव के एक घर में लुटेरों ने बुजुर्ग एनआरआई दंपति पर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया। गंभीर जख्मी बुजुर्ग एनआरआई की मौके पर ही मौत हो गई। लुटेरे घर से सोना, नकदी एवं विदेशी करंसी ले गए। उसकी पत्नी स्थानीय सिविल अस्पताल में भर्ती है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। थाना चड़िक प्रमुख इंस्पेक्टर जसकार सिंह ने कहा कि अज्ञात लुटेरों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक शनिवार रात तकरीबन 1 बजे एनआरआई बुजुर्ग दंपति घर में सो रहे थे। इस दौरान वहां लुटेरे घर में दाखिल हुए।

नशे के खिलाफ चलाई गई मुहिम में लगातार मिल रही सफलता के मद्देनजर मोगा सीआईए पुलिस ने दो नशा तस्करों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से दो किलो अफीम बरामद हुई है। एएसआई गुरमेल सिंह ने बताया कि पुलिस नाके के दौरान शक के आधार पर दो लोगों की तलाशी ली गई, तो उनके पास एक काले लिफाफे में दो किलो अफीम बरामद हुई। पुलिस ने मामला दर्ज कर दोनों नशा तस्करों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।

मोगा में रेलवे कर्मचारी को उसके साथियों ने पीट-पीटकर मौते के घाट उतार दिया। मृतक का कसूर सिर्फ इतना था कि वो अपने जूनियर्स को सही ढंग से ड्यूटी  करने के लिए कहता था, इससे नाराज होकर चार साथियों ने मिलकर उसकी पिटाई कर दी। इस दौरान पीड़ित गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसके बाद दूसरे साथियों ने उसे सिविल अस्पताल मोगा में भर्ती करवाया। जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। वहीं रेलवे पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

मोगा शहर में ठप पड़े विकास कार्यों को लेकर पार्षद लामबंद होते नजर आ रहे हैं। पार्षदों ने नगर निगम के मेयर अक्षित जैन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने इसी कड़ी के तहत निगम दफ्तर में मेयर दफ्तर के आगे धरना दिया। इस मौके पर पार्षदों ने मेयर पर मीटिंग न बुलाने और शहर में विकास कार्य कराने के मामले में रुचि न दिखाने का आरोप लगाया। पार्षदों का आरोप है कि नगर निगम के पास फंड की कोई कमी नहीं है, फिर भी ठेकेदारों का बकाया नहीं दिया जा रहा है। इस लिए नए ठेकेदार काम करने

पंजाब पुलिस की ओर से नशे के खिलाफ चलाई गई मुहिम के तहत मोगा पुलिस ने चूरा पोस्त समेत एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। दरअसल, सीआईए स्टाफ पुलिस ने धुडकोट कलां गांव के पास नाकेबंदी के दौरान इंद्रजीत नाम के एक शख्स को चार किलो चूरापोस्त के साथ गिरफ्तार किया, जो वरना कार में चूरापोस्त लेकर जा रहा था। पुलिस ने तस्कर की निशानदेही पर बारह बोरे चूरापोस्त बरामद किया है। ये चूरापोस्त इंद्रजीत ने अपने रिश्तेदार के घर पर छुपा कर रखा हुआ था। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।