हरियाणा में रोडवेज बसों का चक्का जाम जारी है। आज भी रोडवेज की बसे नहीं चलेंगी। हड़ताल को लेकर मंगलवार को चंडीगढ़ में परिवहन विभाग और परिवहन मंत्री के साथ कर्मचारियों की बैठक भी हुई थी लेकिन ये बैठक बेनतीजा रही और रोडवेज कर्मचारियों ने हड़ताल जारी रखने की घोषणा कर दी है। कर्मचारियों का कहना है कि सरकार ट्रांस्पोर्ट पॉलिसी को वापस लेने के लिए तैयार नहीं जब तक सरकार पॉलिसी को वापस नहीं लेती तब तक हड़ताल जारी रहेगी। वहीं, परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि सरकार के दरवाजे बातचीत के लिए खुले हैं।

करनाल/भिवानी/फतेहाबाद/सोनीपत/सिरसा/टोहाना हरियाणा में रोडवेज कर्मचारियों का प्रदर्शन जारी है. कर्मचारी, प्राइवेट बसों के परमिट जारी करने का विरोध कर रहे हैं, तो वहीं रोजवेज कर्मचारियों के प्रदर्शन के चलते कई जगहों पर बसों की आवाजाही प्रभावित है, जिससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. कर्मचारियों ने साफ किया है कि जबतक उनकी मांगें पूरी नहीं होती, सरकार से उनकी आर-पार की लड़ाई जारी रहेगी. सोमवार को हरियाणा रोडवेज कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों की परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के साथ हुई बैठक बेनतीजा रही. जिसके बाद रोडवेज के चार कर्मचारी संगठनों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल करने का एलान