भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी का निधन, प्रधानमंत्री ने जताया शोक

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी का सोमवार को निधन हो गया। वह कैंसर से पीड़ित थे।

पार्टी सूत्रों के अनुसार 72 वर्षीय मोदी ने सोमवार रात करीब नौ बजकर 45 मिनट पर दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में अंतिम सांस ली।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी समेत भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के अलावा अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं ने उनके निधन पर शोक प्रकट किया और बिहार के विकास में उनके योगदान की सराहना की।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सुशील कुमार मोदी के निधन पर शोक जताया और कहा कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) पारित होने में उनकी सक्रिय भूमिका सदैव स्मरणीय रहेगी।

प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, “पार्टी में अपने मूल्यवान सहयोगी और दशकों से मेरे मित्र रहे सुशील मोदी जी के असामयिक निधन से अत्यंत दुख हुआ है।”

उन्होंने कहा कि बिहार में भाजपा के उत्थान और उसकी सफलताओं के पीछे उनका अमूल्य योगदान रहा है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, “हमारे वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी जी के निधन की सूचना से आहत हूं। आज बिहार ने राजनीति के एक महान पुरोधा को हमेशा के लिए खो दिया।”

उन्होंने कहा कि मोदी ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से भाजपा तक संगठन व सरकार में कई महत्त्वपूर्ण पदों को सुशोभित किया।

उन्होंने कहा, “उनकी राजनीति गरीबों व पिछड़ों के हितों के लिए समर्पित रही। उनके निधन से बिहार की राजनीति में जो शून्यता उभरी है, उसे लंबे समय तक भरा नहीं जा सकता। दुःख की इस घड़ी में पूरी भाजपा उनके शोकाकुल परिवार के साथ खड़ी है।”

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा, ‘‘विद्यार्थी परिषद से लेकर अभी तक हमने साथ में संगठन के लिए लंबे समय तक काम किया।’’ उन्होंने कहा, “सुशील मोदी का पूरा जीवन बिहार के लिये समर्पित रहा। बिहार को जंगलराज से बाहर निकालकर विकास के पथ पर लाने में सुशील मोदी का प्रयास बहुत मददगार रहा है। उनका ना होना असंख्य कार्यकताओं के लिए यह एक अपूरणीय क्षति है।”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सुशील कुमार मोदी का लम्बा सार्वजनिक जीवन जनता-जनार्दन की सेवा और गरीब कल्याण के प्रति समर्पित था।