Punjab: अमृतसर में महाराजा रंजीत सिंह समर पैलेस को पर्यटकों के लिए 16 साल बाद खोला गया

RSP

गर्मियों में महाराजा रणजीत सिंह की आरामगाह रहा समर पैलेस नवीनीकरण के बाद पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। इस पैलेस को रेनोवेट करने में 18 साल लग गए। यहां पर 2004 से नवीनीकरण का काम चल रहा था। खास बात यह है कि समर पैलेस बिना किसी शाही उद्घाटन के शुरू कर दिया गया है। इस पैलेस को सांस्कृतिक एवं पर्यटन विभाग को सौंप दिया गया है।

कंपनी बाग के अंदर बनी समर पैलेस की इमारत 19वीं सदी में तैयार की गई थी। महाराजा रणजीत सिंह ने 1802 में अमृतसर को अपने अधिकार क्षेत्र में लिया था। इसके बाद ही इस पैलेस का निर्माण करवाया था। महाराजा रणजीत सिंह गर्मी शुरू होने पर तीन महीने तक इसी पैलेस में रहते थे। यहीं से शासन चलाते थे। बाकी के नौ महीने वह लाहौर से शासन चलाते थे।

समर पैलेस म्यूजियम में महाराजा रणजीत सिंह के जीवन को दर्शाती हुई अलग-अलग गैलरियां बनाई गई हैं ताकि जो भी पर्यटक यहां आए, उसे महाराजा रणजीत सिंह के जीवन के बारे में पूरी जानकारी मिल सके कि वह किस तरह अपना शासन चलाते थे।