प्रमुख दार्शनिक स्थलों के लिए अब एसी बसें चलाएगी हरियाणा रोडवेज, हर डिपो को मिलेंगी नयी एसी बसें…

हरियाणा रोडवेज अब हर जिले से हरियाणा व अस पास के प्रदेशो के तीर्थ व दार्शनिक स्थलों के लिए नयी एसी बसें चलाने प्रपोजल तैयार कर चुका है। इनमें प्रमुख रूप से ज्वालाजी, ऋषिकेश, हरिद्वार, बद्रीनाथ, अमृतसर, वैष्णो देवी, सालासर, मथुरा, मेहंदीपुर बालाजी, आगरा, वृंदावन, अयोध्या, जयपुर, शिमला, मनाली आदि शामिल हैं। इन बसों में सामान्य बसों से डेढ़ गुना किराया लेने का प्रपोजल रोडवेज ने बनाया है। हालांकि टिकट की राशि का अंतिम निर्णय सरकार को लेना है। हरियाणा रोडवेज के निदेशक वीएस दहिया के अनुसार, हरियाणा रोडवेज को जनवरी में 150 एसी बसें मिलेंगी। यह बसें जनवरी से मार्च के दौरान हरियाणा की सड़कों पर होंगी। 54 सीटर बसों में से बड़े डिपाे का 10-10 मिलेंगी, जबकि अन्य डिपाे को कम बसें मिलेंगी।

मई-2023 तक 4400 बसोें का बेड़ा करने का दावा

हरियाणा रोडवेज के बेड़े में फिलहाल 3200 बसें हैं, इनमें मई-2023 तक करीब 2000 बसें और जुड़ जाएंगी। जबकि कुछ बसें समय सीमा खत्म होने पर रोड से हट जाएंगी। ऐसे में मई 2023 तक रोडवेज का बेड़ा करीब 4400 का होगा। अभी रोडवेज के बेड़े में बसों की कमी है, जिसे विभाग जल्दी दूर करना चाहता है।

दिसंबर में इलेक्ट्रिक बसों का टेंडर होने की सम्भावना

हरियाणा में जल्द ही 550 इलेक्ट्रिक बसें भी आनी हैं, इनका टेंडर दिसंबर के प्रथम सप्ताह में होने की संभावना है। सूत्रों के अनुसार, 6 कंपनियां टेंडर के लिए आई हैं, लेकिन टेंडर दिसंबर के प्रथम सप्ताह में हो सकता है। हरियाणा में इलेक्ट्रिक बसें आने से काफी हद तक बसों की समस्या खत्म हो जाएगी। इन बसों का संचालन एनसीआर सहित अन्य जिलों में होना है।