यमुनानगर हथनीकुंड बैराज पर यमुना नदी उफान पर है. उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों में हुई मूसलाधार बरसात से यमुना नदी का जलस्‍तर काफी बढ़ गया है. हथनीकुंड बैराज पर यमुना का जलस्तर 1.40 लाख क्यूसिक से ऊपर पहुंच गया है और यह खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गई है. इससे हरियाणा और दिल्‍ली के लिए बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है. इस खतरे को देखत हुए बैराज से निकलने वाली उत्‍तर प्रदेश, हरियाणा आैर दिल्‍ली की नहरों की जलापूर्ति रोक दी गई है. शिवालिक की पहाडि़यों पर हुई भारी बरसात के कारण क्षेत्र की बरसाती नदियों में