दिल्ली सोमवार को जब अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात होगी तो एक-दूसरे को जानने के लिए उनके पास करीब पांच घंटे का समय होगा. दोनों लीडर्स करीब 3.30 बजे वन टू वन बातचीत करेंगे. फिर मीडिया के साथ फोटो-ऑप के बाद दोनों प्रतिनिधिमंडल स्तरीय वार्ता के लिए रवाना होंगे, जिसके बाद कॉकटेल रिसेप्शन का आयोजन किया जाएगा. इस दिन का समापन वाइट हाउस में डिनर के साथ होगा. मोदी अमेरिका दौरे पर जाने वाले पहले विदेशी लीडर होंगे, जो ट्रंप के साथ वाइट हाउस में डिनर करेंगे. दोनों राष्ट्र प्रमुखों के बीच इस दौरे के दौरान साझा प्राथमिकताओं

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्‍नी और प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप और उनके बेटे बैरन अब व्हाइट हाउस में रहेंगे. मेलानिया बेटे बैरन के साथ व्हाइट हाउस शिफ्ट हो गई हैं. मेलानिया ट्रंप की संचार निदेशक स्टेफनी ग्रिशम ने रविवार रात ट्वीट कर कहा, "यह आधिकारिक है. मेलानिया और बैरन डीसी आ गए हैं." राष्ट्रपति बनने के बाद डोनाल्ड व्हाउट हाउस में शिफ्ट हो गए थे जबकि मेलानिया ट्रंप बेटे बैरन (11) के साथ न्यूयॉर्क के ट्रंप टावर में रह रही थीं. एनबीसी के मुताबिक, मेलानिया ने बैरन के न्यूयॉर्क स्कूल में इस साल का सत्र पूरा होने तक वहीं रहने

नॉर्थ कोरिया को लेकर लगातार बढ़ रहे तनाव के बीच अमेरिका की पूरी सीनेट को व्हाइट हाउस पर बुलाया गया. इस दौरान व्हाइट हाउस की ओर से सभी सीनेट को नॉर्थ कोरिया मामले की पूरी जानकारी दी जाएगी. बता दें कि इस बैठक में लगभग 100 सेनेटर हो सकते हैं, इसके साथ ही अमेरिकी रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस भी इस बैठक में होंगे. बताया जा रहा है कि इस बैठक में नॉर्थ कोरिया के द्वारा हाल ही में उठाए गए कदमों पर विस्तार से चर्चा की जाएगी. कहा जा सकता है कि ट्रंप प्रशासन नॉर्थ कोरिया पर कोई बड़ा निर्णय ले