उत्तर प्रदेश सरकार ने सूबे के सभी मदरसों के लिए नया आदेश जारी किया है. आदेश के मुताबिक सभी मदरसों को हिंदी में मदरसों का नाम, खुलने और बंद होने का वक्त समेत तमाम जानकारियां लिखनी होंगी. सरकार के मंत्री बलदेव सिंह ओलख ने बताया कि ये आदेश इसलिए दिया गया ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग जान सकें कि आखिरकार इस मदरसे का नाम क्या है. साथ ही ये भी लोग जान सकें कि यहां किस तरह की पढ़ाई होती है. मदरसों के खुलने और बंद होने का वक्त भी अब बोर्ड पर लिखना होगा. सरकार के इस फरमान को मदरसा संचालकों

यूपी में कानपुर और इटावा के बीच औरैया जिले में अछल्दा स्टेशन के पास ट्रेन हादसा हुआ है। आजमगढ़ से दिल्ली आ रही कैफियात एक्सप्रेस औरैया के पास मानव रहित फाटक पर देर रात ट्रेन एक डंपर से टकरा गई। इस वजह से दुर्घटना की वजह से ट्रेन के इंजन समेत 12 डिब्बे पटरी से उतर गए। हादसे में 50 से ज्यादा यात्रियों के घायल होने की खबर है। हालांकि मौके पर प्रशासन ने राहत और बचाव कार्य पूरा कर लिया है। वहीं, हादसे के बाद अप और डाउप लाइन ठप हो गई है।कानपुर शताब्दी समेत 12 ट्रेनें कैंसिल कर दी

यूपी के मुजफ्फरनगर में शनिवार शाम हुए भीषण ट्रेन हादसे में मरने वालों की संख्या 23 हो गई है. हादसे में 97 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं. इनमें से 26 लोग गंभीर रूप से जख्मी हैं, वहीं बाकी 71 को हल्की चोटें आई हैं. फिलहाल, पुलिस-प्रशासन का अमला मौके पर मौजूद है. राहत-बचाव का काम जारी है. इस रेल हादसे के पीछे बड़ी लापरवाही की भी बात सामने आ रही है. घटनास्थल के पास पटरियां कटी हुई हैं और वहां से हथौड़े, रिंच और अन्य औजार मिले हैं. बताया जा रहा है कि मुजफ्फरनगर के खतौली में ट्रैक

यूपी के पूर्व सीएम और सपा प्रमुख अखिलेश यादव अपने समर्थकों के साथ औरैया थाना जा रहे थे. वे समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व विधायक प्रदीप यादव से मिलने जा रहे थे. अखिलेश और उनके साथियों को पुलिस ने उन्नाव-एक्सप्रेसवे के पास हिरासत में ले लिया था, लेकिन कुछ देर बाद उन्हें हिरासत से छोड़ दिया गया है. अखिलेश को हिरासत में लिए जाने के बाद समाजवादी कार्यकताओं ने हाईवे पर हंगामा शुरू कर दिया. माहौल को बिगढ़ते देख पुलिस ने उनकी बातों को मानते हुए आश्वासन देकर छोड़ दिया है. गौरतलब है कि  औरैया  में जिला पंचायत अध्यक्ष पद

गोरखपुर के बीआरडी कॉलेज में चंद घंटों के भीतर कई बच्चों की मौत मामले में स्थानीय डीएम की जांच रिपोर्ट आ गई है. जांच रिपोर्ट में बीआरडी कॉलेज के प्रिंसिपल आरके मिश्रा को मुख्य आरोपी ठहराया गया है. कहा गया है कि अस्पताल में ऑक्सीजन की सप्लाई बाधित होने के पीछे सबसे ज्यादा लापरवाही आरके मिश्रा की ओर से हुई है. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि वित्तीय गड़बड़ी के चलते अस्पताल में ऑक्सीजन की सप्लाई बंद हुई. इस ओर भी इशारा किया गया है कि अस्पताल में ऑक्सीजन की खरीद में कमीशखोरी हो रही थी. डीएम की जांच रिपोर्ट

गोरखपुर में पिछले पांच दिनों में 60 बच्चों की दर्दनाक मौत ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं. जान गंवाने वाले बच्चों में 5 नवजात शिशु भी थे. हॉस्पिटल में होने वाली कुल मौतें 30 हैं. न मौतों की वजह आधिकारिक तौर पर भले ही नहीं बताई जा रही हो लेकिन कहा जा रहा है कि इसके पीछे ऑक्सीजन की कमी ही कारण है. जबकि, यूपी सरकार का कहना है कि ऑक्सीजन की कमी से मौत नहीं हुई. 9 तारीख की आधी रात से लेकर 10 तारीख की आधी रात को 23 मौतें हुईं जिनमें से 14 मौतें नियो नेटल

उत्तरप्रदेश के बाद बिहार में भी अवैध बूचड़खानों पर लगाम लगाने की तैयारी शुरू हो गई है। पशु और मत्स्य पालन मंत्री पशुपति कुमार पारस ने शनिवार को करीब 140 अवैध बूचड़खानों को बंद करने की बात कही। बिहार के मंत्री ने कहा, 'मैंने डिपार्टमेंट के सचिव से राज्य के सभी बूचड़खानों की रिपोर्ट तैयार करने को कहा है। इनमें लाइसेंस वाले और अवैध बूचड़खानों को शामिल किया जाएगा। रिपोर्ट और नियमों के आधार पर सभी अवैध बूचड़खाने बंद करने की बात कही।' बताया जा रहा है कि नियमों के मुताबिक, सिफ्र दो बूचड़खाने ही वैध हैं जिनमें एक अरारिया जिले

उत्तर प्रदेश में गरीब लड़कियों की शादी राज्य सरकार कराएगी. इसके लिए राज्य सरकार के खर्चे पर सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. इस तरह के आयोजनों में सांसद और विधायक के अलावा समाज के प्रतिष्ठित लोगों को भी बुलाया जाएगा. खास बात यह है कि अब तक इस योजना के तहत दी जाने वाली राशि बीस हजार रुपये में कोई छेड़छाड़ नहीं की जाएगी और उसे कन्या के खाते में जमा कर दिया जाएगा. इसके साथ ही एक स्मार्ट फोन का उपहार भी उसे मिलेगा. समाज कल्याण विभाग ने इसका प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेज दिया है. मीडिया

उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में पिछले कुछ दिनों में हुई भारी बारिश के बाद 10 जिलों में बाढ़ की आशंका के मद्देनजर हाईअलर्ट जारी किए गए हैं. मौसम विभाग ने शुक्रवार को भी राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी दी है. जिन 10 जिलों में बाढ़ की आशंका के मद्देनजर अलर्ट जारी किया गया है, उनमें लखनऊ, प्रतापगढ़, फैजाबाद, गोंडा, रायबरेली, हरदोई, बाराबंकी, बदायूं, बरेली तथा मुरादाबाद शामिल हैं. एक अधिकारी ने बताया कि भारी बारिश के कारण गंगा, यमुना, सरयू और घाघरा नदियां उफान पर हैं और इनके जलस्तर में आगे और वृद्धि की संभावना है.

उत्तरप्रदेश के दो अलग-अलग जिलों में गुरुवार को हुए भीषण सड़क हादसों में कुल 14 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 6 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। ये हादसे सीतापुर और बिजनौर में हुए हैं। घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस मौके पर पहुंच गई है। बिजनौर हादसे में 9 की मौत, कई घायल सुबह-सुबह हुए सड़क हादसे में एक ही परिवार के 9 लोगों की मौत हो गई। हादसा तब हुआ जब लखीमपुर खीरी का एक परिवार हरिद्वार से इनोवा कार से वापस घर लौट रहा था। हादसे में एक महिला और दो