यूपी के पूर्व सीएम और सपा प्रमुख अखिलेश यादव अपने समर्थकों के साथ औरैया थाना जा रहे थे. वे समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व विधायक प्रदीप यादव से मिलने जा रहे थे. अखिलेश और उनके साथियों को पुलिस ने उन्नाव-एक्सप्रेसवे के पास हिरासत में ले लिया था, लेकिन कुछ देर बाद उन्हें हिरासत से छोड़ दिया गया है. अखिलेश को हिरासत में लिए जाने के बाद समाजवादी कार्यकताओं ने हाईवे पर हंगामा शुरू कर दिया. माहौल को बिगढ़ते देख पुलिस ने उनकी बातों को मानते हुए आश्वासन देकर छोड़ दिया है. गौरतलब है कि  औरैया  में जिला पंचायत अध्यक्ष पद

लखनऊ UP की 403 सीटों का चुनाव 7 चरणो में होगा. उत्तर प्रदेश में मतदान 11, 15, 19, 23, 27 फरवरी तथा 4 और 8 मार्च को तथा मतगणना 11 मार्च को होगी पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चुनाव पहले चरण में मेरठ मंडल के जिलो में होगे चुनाव. चुनाव आयुक्त ने बताया कि 100 प्रतिशत वोटरों के पास वोटर आईडी कार्ड हैं. ईवीएम का प्रयोग सभी राज्यों में होगा. जिन इलाकों में महिलाओं पुरुषों के साथ असहज हैं वहां पर उनके लिए अलग पोलिंग बूथ की व्यवस्था की जाएगी. चुनाव आयोग ने बताया कि सभी मतदाताओं को फोटो वाली वोटर स्लिप दी