हैदराबाद की रहने वाली एक तीन साल की बच्ची अहाना खून के आंसू रोती है. उसके घरवाले परेशान हैं क्योंकि इलाज के बाद भी खून बहना बंद नहीं हुआ है. आगे इलाज के लिए घरवालों के पास पैसे नहीं हैं. डॉक्टर भी अभी स्थायी इलाज के बारे में कुछ स्पष्ट नहीं बता पा रहे हैं. डॉक्टर सिरीषा का कहना है कि अहाना नाम की बची को हेमैटोड्रोसिस नाम की दुर्लभ बीमारी है. इस बीमारी में पसीना या आंसू खून में मिलकर बाहर आते हैं. डॉक्टर का कहना है कि इलाज के बाद खून बहना कम हो गया है. डॉक्टरों के अनुसार अहाना