पंजाब में किसानों की खुदकुशी का सिलसिला थम नहीं रहा है। ताजा मामला तरनतारन के सरहदी गांव नोशहरा ढाला का है, जहां कर्ज से तंग किसान कुलवंत सिंह ने जगर खाकर खुदकुशी कर ली। कुलवंत सिंह पर आढ़तियों और सोसायटी का करीब सात लाख रुपए का कर्ज था। जिससे वो हमेशा परेशान रहता था। परिजनों के मुताबिक कुलवंत पर तीन एकड़ खेत था, जिसमें से एक एकड़ खेत कर्ज चुकाने के चलते बेच दिया। वहीं मामले की जांच कर रही है।

पुंछ हमले में शहीद हुए परमजीत के परिवारवालों से मिलने पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह पहुंचे. इस मौके पर उनके साथ पंजाब कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और नवनियुक्त पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ भी मौजूद रहे. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ऐलान किया कि परिवार में से बड़ी बेटी को सरकारी नौकरी दी जाएगी और फ्लैट भी दिया जाएगा। इसके अलावा बच्चों की पढ़ाई का खर्च पंजाब सरकार उठाएगी।  कैप्टन ने शहीद के परिवारवालों को 12 लाख का चैक भी दिया.