रियाद विदेशों में फंसे भारतीयों की जी जान से मदद करने वाली विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से देश की एक और बेटी ने मदद की गुहार लगाई है. सऊदी अरब के रियाद में नौकरी करने गई हैदराबाद की हुमैरा वहां जाकर मुसीबत में फंस गई है. उसकी दो बहनें कह रही हैं कि अब तो सुषमा मैम ही उन्हें उनकी बहन से मिलवा सकती हैं. हैदराबाद की रहने वाली हुमैरा नौकरी की आस में सऊदी अरब गई थी, लेकिन वहां जल्लादों के बीच फंस गई. हुमैरा का परिवार अब गुहार लगा रहा है. हुमैरा की बड़ी बहन रेशमा ने कहा, ‘’ सुषमा स्वराज मैडम

पिछले काफी दिनों से इलाज के लिए भारत आने की कोशिश में जुटी पाकिस्तान की एक कैंसर पीड़ित महिला को आखिरकार विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मेडिकल वीजा देने का फैसला किया है। फैजा तनवीर नाम की इस पाकिस्तानी महिला ने ट्विटर पर सुषमा को अपनी मां जैसा बताते हुए भारत को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी और वीजा देने की गुहार लगाई। जवाब में सुषमा ने बधाई स्वीकार करते हुए फैजा को मेडिकल वीजा देने का ऐलान किया। फैजा के मामले को लेकर पिछले महीने सुषमा ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री सरताज अजीज को खूब खरी-खोटी भी भी सुनाई

नारनौंद के सुलचानी गांव का युवक साऊदी अरब में रोजगार के लिए गया था, लेकिन जालसाजों के चक्कर में आकर अब साऊदी अरब में ही फंस गया है। पीड़ित युवक ने एक वीडियो वायरल कर अपना दर्द बयां किया है। उधर, संबंधित एजेंट ने पीड़ित परिवार से युवक को वापस लाने के लिए दो लाख रुपए की डिमांड की है, जिसके बाद से पीड़ित परिवार सरकार से न्याय की गुहार लगा रहा है।

पाकिस्तान की एक महिला ने इलाज के लिए वीसा दिलाने में सुषमा स्वराज की मदद को लेकर उनकी जमकर तारीफ की। यहां तक कि महिला ने कहा कि काश वे पाकिस्तान की पीएम होतीं तो देश बदल गया होता। दरअसल एक पाकिस्तानी नागरिक को भारत में मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए वीसा की दरकार थी। उनकी तरफ से पाक महिला हिजाब आसिफ ने सुषमा स्वराज से मदद की गुजारिश की। सुषमा ने अधिकारियों को उनकी मदद करने को कहा। इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग ने आसिफ के लिए ट्वीट करते हुए लिखा, मैडम हम वीसा अर्जी को लेकर संपर्क में हैं और आश्वस्त

पाकिस्‍तानी युवती की तरफ से कैंसर के इलाज के लिए मांगी गई मदद पर विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने उसे सहायता का आश्‍वासन दिया है. सुषमा स्‍वराज ने सोमवार सुबह टवीटर पर लिखा कि पाकिस्‍तान के लोगों के साथ मेरी पूरी हमदर्दी है. उन्‍होंने लिखा कि मेरे पास मेडिकल वीजा की सिफारिशें नहीं आई, सरताज अजीज को पाकिस्‍तान के लोगों की फिक्र नहीं है. I have my sympathies for all Pakistan nationals seeking medical visa for their treatment in India. /1 — Sushma Swaraj (@SushmaSwaraj) July 10, 2017 I am sure Mr.Sartaj Aziz also has consideration for the nationals of his country. /2 — Sushma Swaraj (@SushmaSwaraj)

दिल्ली विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शुक्रवार को पासपोर्ट शुल्क में कमी का ऐलान किया. सुषमा ने बताया कि पासपोर्ट शुल्क बनवाने के लिए अब 10 प्रतीशत कम पैसे देने होंगे, लेकिन यह फायदा सबके लिए नहीं है. आठ साल से कम और 60 साल से ज्यादा के लोग ही इसका फायदा उठा सकेंगे. बाकी लोगों को पहले जैसा चार्ज देना होगा. इसके साथ ही सुषमा ने बताया कि पासपोर्ट हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषा में हुआ करेंगे. इसके साथ ही सुषमा ने एक स्टैंप को भी लॉन्च किया. यह स्टैंप पासपोर्ट एक्ट के 50 साल पूरे होने पर लॉन्च की गई. इसके

पिछले कुछ दिनों से खबरें आ रही हैं कि राष्ट्रपति पद के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को एनडीए अपना उम्मीदवार बना सकता है. हालांकि अब सुषमा स्वराज ने इन खबरों का खंडन करते हुए इन्हें महज अफवाह बताया है. उन्होंने यह साफ किया है कि वह राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार नहीं हैं. पत्रकारों ने जब विदेशमंत्री से पूछा कि क्या राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए उनके नाम पर गौर किया जा रहा है तो उन्होंने कहा कि ये अफवाह हैं. उन्होंने कहा कि वह एक्सटर्नल अफेयर्स की मंत्री हैं और पत्रकार उनसे इंटरनल अफेयर्स से जुड़ा सवाल पूछ रहे

अमेरिका के कैलिफोर्निया में रहने वाले तेलंगाना के 26  साल के युवक पर 3 जून को गोली चला दी गई। मुबीन अहमद नाम के इस युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमला उस जगह हुआ जहां युवक काम करता था। वह इस स्टोर में पार्ट टाइम काम करता था। रिपोर्ट्स में कहा गया है कि उस दिन मुबानी स्टोर पर काम कर रहा था, तभी कुछ अश्वेत मूल के लोग कुछ खरीदारी करने आए और उन्होंने उसपर गोली चला दी। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इस मामले पर नजर बनाए हुए है। उन्होंने इस मामले को लेकर

होशियारपुर के युवक पलविंदर सिंह के मलेशिया में लापता होने से परिजन असमंजस में हैं। परिवार वालों का कहना है कि, परमिंदर मर्चेंट नेवी के लिए दोस्त के साथ मलेशिया गया था, लेकिन चार जून को उन्हें पता चला की शिप पर काम करते हुए परमिंदर का पैर फिसल गया और वो समुंदर में गिर गया, जिसके बाद से परमिंदर को कुछ पता नहीं चल रहा। पलविंदर के परिजनों ने उसके दोस्त पर शक जताया है, साथ ही उन्होंने विदेश मंत्रालय से मामले में संज्ञान लेने की गुहार लगाई है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज लगातार ट्विटर पर एक्टिव रहती हैं, और लोगों की मदद करती हैं. लेकिन कई मौके ऐसे भी आते हैं जब लोग उनसे नामुमकिन सी ख्वाहिश करते हैं. ऐसा ही कुछ हुआ गुरुवार सुबह, जब एक व्यक्ति ने कहा कि मैं मंगल ग्रह पर फंस गया हूं, 987 दिन पहले जो मंगलयान के द्वारा खाना भेजा गया था वह खत्म हो गया है, आप दूसरा मंगलयान कब भेजेंगी. सुषमा स्वराज ने भी इसका जवाब शानदार तरीके से दिया, उन्होंने लिखा कि अगर आप मंगल ग्रह पर भी फंस जाओगे, तो भी भारतीय उच्चायोग वहां पर आपकी मदद करेगा. https://twitter.com/SushmaSwaraj/status/872653636849082368