शिमला में छोटे बच्चों की जिंदगी से साथ खिलवाड़ हो रहा है.  घटना 15 सितंबर की शहर के एक आंगनबाड़ी केंद्र की है. आंगनवाड़ी केंद्र में कार्यकर्ताओं ने छोटे बच्चों को खसरा और रूबेला के टीके लगाए. और इसके बाद बच्चों को फंफूद लगे बिस्कुट दे दिए. परिजनों ने जब पैकेट खोला तो बिस्कुट पर फफूंद लगा था. फफूंद लगे बिस्कुट की शिकायत परिजनों ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को की. तो इस बारे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने कहा कि विभागीय अधिकारियों के निर्देश पर आंगनबाड़ी केंद्र में टीका लगाने आने वाले बच्चों को स्टॉक में रखे बिस्कुट दिए गए हैं. बता दे कि नेशनल

शिमला, जेएनएन। कोटखाई दुष्कर्म, हत्या के आरोपी सूरज की लॉकअप में हत्या के मामले में हिमाचल पुलिस के आईजी समेत आठ पुलिस अफसरों को शिमला अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा। इससे पहले सोमवार को कोटखाई दुष्कर्म व हत्या मामले में पुलिस लॉकअप में आरोपी सूरज की मौत को लेकर निलंबित आइजी जहूर जैदी सहित आठ पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को अदालत से तीन दिन का रिमांड मिला था। अदालत ने जब सभी आरोपियों को तीन दिन के रिमांड पर भेजा तो आइजी जैदी की आंखों से आंसू छलक पड़े थे।

शिमला के तारादेवी जंगल में बेसुध हालत में मिली गर्भवती महिला की आईजीएमसी अस्पताल में मौत हो गई है। महिला ने मंगलवार तड़के सुबह अस्पताल में दम तोड़ दिया। पुलिस अभी तक इसकी पहचान नहीं कर पाई है। पुलिस के अनुसार 24 जुलाई को तारादेवी के जंगल में यह महिला बेसुध हालत में मिली थी। दो स्थानीय युवकों ने सबसे पहले इसे यहां देखा जिसके बाद पंचायत प्रधान को इसकी सूचना दी। बाद में पुलिस मौके पर पहुंची और इसे अस्पताल ले आई। महिला के शरीर पर चोटों के घाव थे। चिकित्सीय जांच में पता चला कि यह चार माह की गर्भवती

कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश प्रभारी सुशील कुमार शिंदे तीन अगस्त को शिमला आएंगे। संगठन और सरकार के बीच की रार खत्म करने की चुनौतीपूर्ण जिम्मेदारी लेकर शिंदे शिमला कांग्रेस कार्यालय में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, मंत्रियों, विधायकों और संगठन पदाधिकारियों के साथ बैठक कर सकते हैं। हिमाचल दौरे के प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार शिंदे दो अगस्त को धर्मशाला पहुंचेंगे जिसके अगले दिन तीन अगस्त को राजधानी दौरे पर होंगे। पहले भी हिमाचल के प्रभारी रह चुके शिंदे प्रदेश में संगठन और भौगोलिक स्थिति से परिचित हैं। संगठन और सरकार के बीच की खींचतान को खत्म करने में श्ंिादे इसी तजुर्बे का इस्तेमाल करेंगे।

कोटखाई में छात्रा की दुराचार और हत्या करने वाले दरिंदों का 120 घंटे बाद भी पुलिस सुराग नहीं लगा सकी है. लोगों में हत्यारों का सुराग न मिलने पर आक्रोश बढ़ता जा रहा है. दिल दहला देने वाली इस घटना के बाद आरोपी का सुराग न मिलने से लोगों में भारी आक्रोश है. पुलिस के एक के बाद एक बडे़ अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच चुके है. सोमवार को एएसपी भजन नेगी मौके पर पहुंचने के बाद स्टाफ को दिशा-निर्देश दे रहे हैं. अलग अलग टीमों की गठन भी किया या है लेकिन अभी दरिंदों का सुराग नहीं लग सका है.

यूपीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार शिमला में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल हैं। इस बैठक में मीरा कुमार चुनाव के लिए समर्थन की अपील करेंगी। मुख्यमंत्री के सरकारी निवास ओकओवर में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की अध्यक्षता में ये बैठक हो रही है। इसमें सरकार के सभी मंत्री, सीपीएस और कांग्रेस विधायक शामिल हैं। हिमाचल विधानसभा में कांग्रेस के पास निर्दलीय समेत  39 विधायकों का समर्थन है, साथ ही प्रदेश से कांग्रेस के दो राज्यसभा सांसद भी हैं। इसके बाद मीरा कुमार और अंबिका सोनी मीडिया से भी बात करेंगी।

देवभूमि एक फिर बार फिर शर्मसार हुई है। दसवीं कक्षा की छात्रा की रेप के बाद हत्या कर दी गई। शव नग्न हालत में जंगल से बरामद हुआ है। हिमाचल के जिला शिमला की तहसील कोटखाई की एक पंचायत में दसवीं कक्षा की छात्रा शव नग्न हालत में जंगल से बरामद हुआ है। पुलिस की प्राथमिक जांच में हत्या से पहले छात्रा के साथ दुराचार की आशंका जताई जा रही है। मामले की जांच के लिए घटना स्थल पर पुलिस, फोरेंसिक टीम और डाग स्क्वायड को बुलाया गया है। पुलिस ने घटना स्थल को सील कर दिया है। एक गांव से

बिलासपुर अस्पताल में डॉक्टरों की मांग को लेकर बीजेपी प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य सुभाष शर्मा ने अब शिमला में आंदोलन शुरू कर दिया है। सरकार के आश्वासन के बाद भी बिलासपुर में अभी किसी डॉक्टर ने ज्वाइन नहीं किया। इसके विरोध में अब सुभाष शर्मा अपने साथियों के साथ स्वास्थ्य मंत्री के घर के बाहर अनशन पर बैठ गए है। उन्होंने कहा है कि जब तक जिला अस्पताल में डॉक्टरों की ज्वाइनिंग नहीं होती वे आंदोलन जारी रखेंगे। आपको बता दें कि सुभाष शर्मा इस संबंध में पहले भी 9 दिन तक आमरण अनशन पर बैठे थे। इसके बाद प्रशासन ने

शिमला आईजीएमसी में स्वाइन फ्लू से रेडियोलॉजी विभाग के एचओडी की मौत के बाद डेंटल कॉलेज का एक कर्मचारी भी इस बीमारी की चपेट में आ गया है. यह कर्मी प्रास्थोडॉन्टिक्स विभाग में कार्यरत है. यह वह विभाग है जिसके हेड कॉलेज के प्राचार्य प्रो. आरपी लुथरा हैं. कॉलेज के ही एक कर्मी को स्वाइन फ्लू की पुष्टि होने से कॉलेज में हड़कंप मच गया है. इस विभाग में कुल 40 लोगों का स्टाफ है. इसमें पीजी डॉक्टर तक शामिल है. हवा के संपर्क से यह रोग अन्य में भी फैलने की आशंका बनी है. बुधवार को अपने ही विभाग के कर्मी

शिमला के दूर दराज इलाके नेरवा में मंदिर से घर लौट रहे लोगों से भरी एक बोलेरो कार टोंस नदी में गिर गई है। हादसे में सात लोगों की मौत हो गई है। इनमें से 6 लोग एक ही परिवार के बताए जा रहे हैं। पुलिस से मिली प्रारंभिक सूचना के अनुसार हादसा रविवार देर रात नेरवा पांवटा मार्ग पर गुम्मा के पास हुआ है। बोलेरो में कुल 12 लोग सवार थे। रात करीब सवा 11 बजे देर रात जैसे ही गुम्मा नेरवा के बीच अंतरावली जगह के पास पहुंचे कि अचानक गाड़ी बेकाबू होकर टोंस नदी में जा गिरी। इससे