रियाद विदेशों में फंसे भारतीयों की जी जान से मदद करने वाली विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से देश की एक और बेटी ने मदद की गुहार लगाई है. सऊदी अरब के रियाद में नौकरी करने गई हैदराबाद की हुमैरा वहां जाकर मुसीबत में फंस गई है. उसकी दो बहनें कह रही हैं कि अब तो सुषमा मैम ही उन्हें उनकी बहन से मिलवा सकती हैं. हैदराबाद की रहने वाली हुमैरा नौकरी की आस में सऊदी अरब गई थी, लेकिन वहां जल्लादों के बीच फंस गई. हुमैरा का परिवार अब गुहार लगा रहा है. हुमैरा की बड़ी बहन रेशमा ने कहा, ‘’ सुषमा स्वराज मैडम

सऊदी अरब में बुधवार रात एक मकान में आग लग जाने से उसमें रह रहे 10 भारतीयों की मौत हो गई और 6 अन्य घायल हो गए है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि जेद्दाह स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास के अधिकारी घटना के बाद नजरान जा रहे हैं. घटना में एक अन्य व्यक्ति की भी मौत हुई है लेकिन अभी उसकी पहचान नहीं की जा सकी है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर बताया 'मैंने जेद्दाह के महावाणिज्यदूत से बात की है, नजरान में आग की घटना का पता चला है जिसमें हमने 10 भारतीय नागरिकों को खो दिया और 6

रियाद सऊदी अरब के सुरक्षाबलों ने शनिवार को मुस्लिमों की सबसे पवित्र मक्का मस्जिद पर हमले की साजिश को विफल कर दिया. मस्जिद की कुछ ही दूरी पर सुरक्षाबलों द्वारा घेरे जाने पर हमलावर ने खुद को उड़ा लिया. साजिश की गंभीरता इससे और ज्यादा बढ़ जाती है क्योंकि रमजान के महीने में मस्जिद को निशाना बनाने की साजिश रची गई. सऊदी अरब के गृह मंत्रालय के अनुसार मस्जिद के नजदीक स्थित अजयाद अल-मसाफी में संदिग्ध के होने की सूचना मिली थी. इसके बाद इलाके की तलाशी के दौरान तीन मंजिला एक इमारत से फायरिंग होने लगी. सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई के

दुबई आतंकवाद का कथित तौर पर समर्थन करने को लेकर कतर का बहिष्कार कर रहे चार अरब देशों ने उसे 13 सूत्री मांगों की एक सूची सौंपी है. अरब देशों ने कतर से टेलीविजन चैनल अल-जजीरा को बंद करने और अपने क्षेत्रीय विरोधी ईरान से संबंधों को कम करने समेत कुल 13 सूत्री मांगों की एक सूची सौंपी है. अरब देशों के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी. अरब देशों की ओर से कतर से की गई इन मांगों का उद्देश्य पिछले कई वर्षों के दौरान खाड़ी देशों में उपजे सबसे बड़े संकट का समाधान करना है. कतर के

रियाद सऊदी के सुल्तान सलमान ने अपने भतीजे मुहम्मद बिन नायेफ को हटाकर अपने बेटे मुहम्मद बिन सलमान को उत्तराधिकारी घोषित कर दिया है. अपने पिता के बाद अब प्रिंस सलमान सऊदी की गद्दी पर बैठेंगे. प्रिंस सलमान को प्रिंस बनाने की तैयार पहले से ही दिख रही थी. उनसे पहले क्राउन प्रिंस रहे 57 साल के नायेफ से धीरे-धीरे सभी शक्तियां छीनी जा रही थीं. नायफ से राजकुमार का क्राउन छीनने के अलावा उनसे देश के सबसे शक्तिशाली आंतरिक सुरक्षा मंत्री का पद भी छीन लिया गया. सऊदी अरब की न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, बिन नायफ जो सालों से आतंकवाद

दिल्ली सऊदी अरब सरकार ने 1 जुलाई से फैमिली टैक्‍स में इजाफा करने का निर्णय लिया है. इसलिए सऊदी अरब में काम करने वाले बड़ी संख्‍या में भारतीय नागरिक अपने आश्रितों को वापस भारत भेजने की योजना बना रहे हैं. इस टैक्स के तहत प्रत्येक आश्रित के लिए शुल्क- 100 रियाल (लगभग 1700 रुपये) होगा जो हर माह सऊदी अरब सरकार को देना होगा। यह वहां रहने वाले भारतीयों के लिए एक बड़ा वित्तीय बोझ है। बता दें कि सऊदी अरब में भारतीय नागरिकों की संख्या लगभग 41 लाख है। दम्मम निवासी कंप्यूटर प्रोफेसनल मोहम्मद ताहिर बताते हैं कि मेरे जानने वाले कुछ

सऊदी अरब, बहरीन, मिस्त्र और संयुक्त अरब अमीरात ने कतर से रिश्ते खत्म करने का ऐलान कर दिया. चारों देशों ने कतर के साथ डिप्लोमेटिक रिश्तों के साथ जमीन, समुद्र और हवाई रिश्ते भी खत्म कर दिए. आतंकी और चरमपंथी संगठनों को समर्थन का आरोप लगाते हुए कतर के खिलाफ ये एक्शन लिया गया. सऊदी अरब ने अपने फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि सऊदी को आतंकवाद और कट्टरपंथ से बचाने के लिए यह कदम उठाना जरूरी था. सऊदी ने कहा कि देश के साम्राज्य को बचाने के लिए ये कदम उठाया गया है. वहीं बहरीन ने कहा है कि वह

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का कहना है कि सऊदी अरब में कथित रूप से बेची और अत्याचार का शिकार जालंधर की रहने वाली 55 वर्षीय महिला बुधवार को भारत लौट आई हैं। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर ये जानकारी दीं। एक खबर के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस मामले पर ध्यान दिया। खबर में महिला के पति कुलवंत सिंह ने आरोप लगाया था कि उसकी पत्नी सुखवंत कौर तीन महीने के टूरिस्ट वीजा पर इस साल जनवरी में सऊदी अरब गई थी। उसे वहां बेचा गया और उस पर अत्याचार किया गया। खबर के अनुसार सुखवंत कौर को

रियाद अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कहा है कि भारत ने आतंकवाद के कारण काफी कुछ सहा है. ट्रंप ने भारत को आतंकवाद से पीड़ित बताया. सऊदी अरब में आयोजित अरब-इस्लामिक US सम्मेलन में बोलते हुए ट्रंप ने यह बात कही. उन्होंने सभी देशों से अपील की है कि वे अपने यहां किसी भी आतंकवादी संगठन को शरण न दें. ट्रंप ने सभी देशों से कहा कि वे अपनी जमीन को आतंकियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह न बनने दें. ट्रंप पहली बार विदेशी दौरे पर निकले हैं. सऊदी के बाद वह इजरायल और इटली भी जाएंगे. रविवार को अरब के इस्लामिक देशों