देश की स्टार शटलर साइना नेहवाल फिर अपने पूर्व कोच पुलेला गोपीचंद के पास पहुंच गई हैं। लंदन ओलिंपिक की ब्रॉन्ज मेडलिस्ट शटलर साइना नेहवाल ने अपने 'भविष्य के टारगेट्स' को हासिल करने के उद्देश्य से वापस पुलेला गोपीचंद की एकेडमी में ट्रेनिंग करने का फैसला किया है। साइना ने अपने ट्विटर हैंडल पर इस बात की जानकारी दी।  बता दें कि गोपीचंद की कोचिंग में ही साइना ने 2012 लंदन ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

विश्‍व बैडमिंटन चैंपियनशिप में भारतीय शटलरों के शानदार प्रदर्शन का दौर जारी है। ओलिंपिक खेलों की कांस्‍य पदक विजेता साइना नेहवाल ग्लासगो में चल रही विश्व चैंपियनशिप के क्‍वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं। प्री-क्‍वार्टर फाइनल मुकाबले में साइना ने चीन की सुंग जी ह्यून को 21-19, 21-15 से मात दी। गौरतलब है कि सुंग जी ह्यून का वर्ल्‍ड रैंकिंग में तीसरा नंबर है। इससे पहले के मैच में साइना ने स्विटजरलैंड की सबरीना जैकेट को सीधे गेम्स में 21-11, 21-12 से हराया था। यह मुकाबला सिर्फ 33 मिनट चला था। तीसरे दौर तक पहुंचने वाली सायना दूसरी भारतीय खिलाड़ी हैं।