शिरोमणि अकाली दल ने पंजाब सरकार के खिलाफ नए मोर्च की शुरूआत कर दी है। आज कादियां में जबर आंदोलन का दूसरा दिन है। वहीं पहले दिन विधानसभा हलके डेरा बाबा नानक में लोगों को संबोधित करते हुए सुखबीर सिंह बादल ने प्रदेश सरकार पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राज में पंजाब में बदलाखोरी की राजनीति शुरू हो गई है। शिरोमणि अकाली दल के वर्कर्स पर झूठे मुकदमें दर्ज किए जा रहे हैं। पत्रकारों का बात करते हुए सुखबीर बादल ने किसानों की खुदकुशी के मामलों पर भी बयान दिया।

पंजाब विधानसभा में बजट पर चर्चा चल रही है, वहीं चर्चा के बीच शिरोमणि अकाली दल और आम आदमी पार्टी के विधायकों ने हंगामे के बाद सदन से वॉकाउट कर दिया है. लोक इंसाफ पार्टी के विधायक सिमरजीत बैंस और आम आदमी पार्टी के विधायक सुखपाल खैरा आज भी विधानसभा के बाहर धरना दे रहे हैं.

शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी के एक संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर बादल और केंद्रीय राज्य मंत्री विजय सांपला की अगुवाई में आज राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर से मुलाकात की। इस दौरान संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने किसान, माइनिंग समेत कई मुद्दों पर ज्ञापन सौंपा. प्रतिनिधिमंडल में दोनों पार्टियों की कोर कमेटी के सदस्य, सांसद और विधायक भी शामिल हुए।

माइनिंग विवाद समेत कई मुद्दों को लेकर आज पंजाब के कई इलाकों में शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे है. वहीं लुधियाना में सुखबीर सिंह बादल इस प्रदर्शन की अगुवाई करेंगे.