सुषमा स्वराज ने कहा कि रोहिंग्या मुस्लिम अकेले बांग्लादेश की समस्या नहीं हैं। उन्होंने बांग्लादेश को भरोसा दिलाया है कि हम इस बारे में म्यांमार सरकार से लगातार बात कर रहे हैं। विदेश मंत्री ने कहा, "हम म्यांमार पर बाइलेटरल और मल्टीलेटरल चैनल्स के जरिए दबाव बना रहे हैं कि वे रोहिंग्या लोगों का निष्कासन बंद करें और बांग्लादेश में शरण लिए हुए लोगों को वापस बुलाएं।' ढाका के न्यूज पेपर डेली स्टार के मुताबिक सुषमा स्वराज ने बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना के डिप्टी प्रेस सेक्रेटरी नजरुल इस्लाम से फोन पर बात की। सुषमा ने कहा, "रोहिंग्या समस्या केवल बांग्लादेश