पूरे देश में आज से लाल बत्ती और नीली बत्ती इतिहास बन जाएगा। क्योंकि आज से ही VVIP की गाड़ियों से लालबत्ती और अधिकारियों की गाड़ी से नीली बत्ती हटा दिए जाएंगे। राष्ट्रपति, पीएम ,सीएम हो या कोई भी मंत्री उनकी गाड़ियों से लालबत्ती हट जाएगी। गौरतलब है कि मोदी सरकार ने VVIP कल्चर को खत्म करते हुए लाल और नीली बत्ती के इस्तेमाल पर अंकुश लगाने का फैसला लिया था जो 1 मई को यानि आज लागू हो गया। हालांकि, कुछ मंत्रियों ने तो जिस दिन फैसला लिया गया, उसी दिन से अपनी गाड़ियों से लालबत्ती हटा रहे हैं। जिनमें

चंडीगढ़ पंजाब सरकार ने शनिवार को औपचारिक अधिसूचना जारी कर कुछ श्रेणी के वाहनों को छोड़कर सभी तरह के वाहनों पर लालबत्ती के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है. राज्य सरकार ने कहा कि यह वीआईपी संस्कृति खत्म करने की दिशा में उठाया गया यह एक महत्वपूर्ण कदम है. अब लाल बत्ती का इस्तेमाल केवल कुछ ही श्रेणियों में उच्च गणमान्य व्यक्तियों द्वारा किया जा सकता है. जिसमें पंजाब के गवर्नर, मुख्य न्यायाधीश और पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के न्यायाधीश शामिल हैं. पंजाब मंत्रिमंडल ने पिछले महीने पहली मंत्रीमंडलीय बैठक में वीआईपी संस्कृति खत्म करने का फैसला लिया था. बैठक में कुछ खास श्रेणियों को