दिल्ली कप्तान विराट कोहली और कोच अनिल कुंबले में तनातनी की खबरों के बीच बीसीसीआई की प्रशासनिक समिति सीओए से इस्तीफा देने वाले रामचंद्र गुहा का इस्तीफा पत्र सामने आया है. इसमें उन्होंने सीमित ओवरों के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित कमिटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स पर निशाना साधा है. गुहा ने धोनी के टेस्ट टीम में न होने के बावजूद उन्हें सैलरी संबंधित कॉन्ट्रैक्ट में ए ग्रेड पर रखे जाने पर आपत्ति जताई है. इसके अलावा, पूर्व क्रिकेटर सुनील गावसकर को भी निशाने पर लिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चेयरमैन विनोद राय को लिखे लेटर में गुहा

सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित 4 सदस्यों वाली बीसीसीआई प्रशासन समिति (सीओए) के सदस्य रामचंद्र गुहा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। कोर्ट ने इस समिति का गठन क्रिकेट की प्रशासनिक देख-रेख के लिए किया था। गुहा ने अपने इस्तीफे की जानकारी उच्चतम न्यायालय को भी दे दी है। गुहा ने निजी कारणों को हवाला देते हुए इस पद से इस्तीफा दिया है। उन्होंने अपना त्याग-पत्र सीओए के अध्यक्ष विनोद राय को सौंपा। उच्चतम न्यायालय ने इस समिति का गठन 30 जनवरी 2017 को किया था। सुप्रीम कोर्ट 14 जुलाई को गुहा की अपील पर सुनवाई करेगा।