बाबरी मस्जिद का विवादित ढांचा तोड़ने पर बीजेपी के सीनियर नेताओं पर कानूनी शिकंजा कसा है. ऐसे में पार्टी के पूर्व सांसद और रामजन्म भूमि न्यास के सदस्य और पूर्व बीजेपी सांसद राम विलास वेदांती का बयान पार्टी की मुश्किलें बढ़ा सकता है. वेदांती ने दावा किया कि अयोध्या में बाबरी ढांचा उनके कहने पर तोड़ा गया. वेदांती की मानें तो उन्होंने ही कार सेवकों को ढांचा तोड़ने के आदेश दिये थे. उनके मुताबिक वीएचपी के दिवंगत नेता अशोक सिंघल के अलावा महंत अवैधनाथ भी इस साजिश में शामिल थे. वेदांती का कहना था कि भले ही उन्हें फांसी हो जाए