जयपुर राजस्थान के बहुचर्चित भंवरी देवी हत्याकांड मामले की एक आरोपी इंदिरा विश्नोई को राजस्थान पुलिस की एटीएस ने कल रात नेमावर क्षेत्र में गिरफ्तार कर लिया. वह बीते 6 साल से फरार थी. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनिल पाटीदार ने बताया कि भंवरी देवी हत्याकांड मामले की आरोपी इंदिरा को राजस्थान पुलिस ने मध्यप्रदेश पुलिस के सहयोग से कल रात यहां नेमावर के पास गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, इंदिरा को भगोड़ा घोषित कर उस पर पांच लाख रूपये का ईनाम रखा गया था. इंदिरा मध्यप्रदेश के देवास जिला मुख्यालय से लगभग 150 किमी दूर नर्मदा नदी के किनारे नेमावर

हिसार रेलवे स्टेशन से बचाई गई बठिंडा की 17 वर्षीय लड़की ने आरोप लगाया है कि हरियाणा और राजिस्थान में कई स्थानों पर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया. लड़की ने रेलवे पुलिस को बताया था कि वह अपने घर से भाग आई थी. पुलिस ने शिकायत के आधार पर संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है. साथ ही पुलिस राजस्थान और हिसार के उन स्थानों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं जहां उसने कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार होने का आरोप लगाया है. पुलिस ने बताया कि वह बठिंडा में उसके परिवार का पता लगाने की भी

राजस्थान के जैसलमेर की किशनगढ़ फील्ड फायरिंग रेंज में मंगलवार सुबह करीब 9:00 बजे मोर्टार फट गया. हादसे में सीमा सुरक्षा बल के 9 जवान गंभीर रुप से घायल हो गए. हालांकि घायल जवानों को समय पर रामगढ़ के स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करावाया गया. हालांकि इससे किसी तरह के जानमाल का नुकसान नहीं हुआ है. फिलहाल सभी जवानों की हालत स्थि​र बताई जा रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आज सवेरे नियमित रूप से चल रहे अभ्यास के दौरान अचानक मोर्टार फट गया. संभावना लगाई जा रही है कि टारगेट से पहले मोर्टार फटने के कारण यह हादसा घटित

जयपुर सीबीएसई ने गुरुवार को ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जेईई) मेन 2017 के रिजल्ट का ऐलान किया. उदयपुर के कल्पित वीरवल ने 1st रैंक हासिल की है. कल्पित ने मेन 100 परसेंटाइल के साथ 360 में से 360 नंबर हासिल किए. जेईई के एग्जाम में यह पहली बार हुआ है कि किसी स्टूडेंट ने फिजिक्स, कैमेस्ट्री और मैथ्स में 120 में से 120 अंक हासिल किए हैं. पेन-पेपर बेस्ड जेईई मेन एग्जाम 2 अप्रैल 2017 को, जबकि कंप्यूटर बेस्ड जेईई मेन एग्जाम 8 और 9 अप्रैल 2017 को हुआ था, इसमें 10 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया था, रिजल्ट जेईई की आधिकारिक वेबसाइट

जयपुर राजस्थान विधानसभा में बुधवार को हुए अभूतपूर्व हंगामे के बाद अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने अनुशासनहीनता के आरोप में कांग्रेस के 12, बसपा के एक और एक निर्दलीय विधायक को एक साल के लिए विधानसभा की सदस्यता से निलम्बित कर दिया. निलम्बित विधायकों में कांग्रेस के गोविन्द डोटासरा, धीरज गुर्जर, शकुंतला रावत, अशोक चांदना, श्रवण गुर्जर, हीरा लाल, सुखराम विश्नोई, मेवा राम, रमेश मीणा, घनश्याम, राजेंद्र सिंह, भजन लाल, निर्दलीय हनुमान बेनीवाल और बसपा के मनोज न्यागली शामिल है. अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने सरकारी मुख्य सचेतक कालू लाल गुर्जर की ओर से सदन में अनुशासनहीनता के लिए इन 14 विधायकों को सदन की