पंजाब की कैप्टन सरकार पूरे एक्शन में है। कैबिनेट मंत्री ने साफ कर दिया है कि अगर प्राइवेट संस्थान बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ करेंगे तो उन पर संकट मंडरा सकता है। तकनीकी शिक्षामंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने निजी शिक्षण संस्थानों के प्रमुखों से बैठक में साफ संकेत दिया है कि गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने में कोई समझौता नहीं किया जाएगा। न ही किसी को कोई रियायत दी जाएगी। चन्नी ने कहा कि राष्ट्रीय काउंसिल द्वारा तय मापदंडों पर अगर कोई कॉलेज खरा नहीं उतरता है तो उसकी मान्यता तत्काल रद्द की जाएगी। किसी को भी युवाओं के भविष्य से खिलवाड़