अमृतसर के पुतलीघर में एक प्लाट के कब्जे को लेकर बीती 18 जून को हुए झगड़े में घायल हुए पीसीआर पुलिसकर्मी के परिवार ने पुलिस पर कार्रवाई ना करने का आरोप लगाया है। घायल हुए पुलिस कर्मी राकेश कुमार की पत्नी मोनिका बावा ने कहा है कि पुलिस हमला करने वाले पूर्व पार्षद सुरेंद्र चौधरी और उनके साथियों से मिली हुई है। पुलिस को जानकारी होते हुए भी पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस ने कार्रवाई नहीं कि तो वे पुलिस कमिश्नर के कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन करेंगी। वहीं, पुलिस के मुताबिक आरोपी पार्षद

श्री फतेहगढ़ साहिब पुलिस ने एक ऐसे गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया है, जो पंजाब के अलग-अलग जिलों में चोरी की कई वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। इस बारे में जानकारी देते हुए एसपी दलजीत सिंह राणा ने बताया कि ये गिरोह फैक्ट्रियों, गोदामों और नई इमारतों को अपना निशाना बनाता था। रात के समय वहां के चौकीदारों को बंधक बनाकर चोरी की वारदातों को अंजाम देता था। पुलिस ने इस गिरोह के छह सदस्यों से करीब बीस लाख रुपए का चोरी का सामान भी बरामद किया है।

7 जुलाई को होशियारपुर कोर्ट से पुलिस को चकमा देकर भागे कैदी को जिला पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसएसपी जे इलनचेलियन ने बताया कि मुकेरिया का रहने वाले ओंकार सिंह को पास्को एक्ट के तहत 14 अगस्त 2016 को मामला दर्ज किया गया था, वो बतौर हवालाती केंद्रीय जेल होशियारपुर में बंद था। सात जुलाई को पुलिस ने कैदी को कोर्ट में पेश किया। पेशी के बाद जैसी ही बाहर निकला तो भीड़ का फायदा उठाकर वो फरार हो गया। इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम गठित की गई। पुलिस ने छापा मारकर आरोपी को उसके घर से

पंजाब में नशा तस्करी के खिलाफ मुहिम में तेजी लाते हुए एसटीएफ स्टाफ ने मानसा और फरीदकोट से नशा तस्करों को गिरफ्तार किया है। मानसा में हेरोइन की खेप के साथ एक नाईजीरियन समेत तीन नशा तस्कर पकड़े गए हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपी को पास से 770 ग्राम हेरोइन बरामद की गई है, जिसकी कीमत करीब चार करोड़ है। वहीं, फरीदकोट के डोगर बस्ती में एक घर में तलाशी के दौरान करीब 11 हजार के नशीली दवाईयां बरामद की गई हैं। पुलिस ने मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है, जिसे कोर्ट ने पुलिस रिमांड पर भेज

बठिंडा बठिंडा में पुलिस कर्मचारियों और अधिकारियों को अब खास दिन पर छुट्टी मिलेगी. एसएसपी नवीन सिंगला ने छुट्टी के आदेश जारी किए हैं. पुलिस कर्मचारियों के जन्मदिन और उनकी शादी की सालगिरह पर छुट्टी मिलेगी और वो अपना खास दिन परिवार के साथ मना पाएंगे. इस एलान के बाद पुलिसकर्मचारियों में खुशी का माहौल है और वो एक-दूसरे को लड्डू खिलाकर खुशी का इजहार कर रहे हैं. दरअसल, बठिंडा पुलिसकर्मियों ने मांग की थी कि उन्हें जन्मदिन और शादी की सालगिरह पर ड्यूटी से राहत मिले, जिसे एसएसपी नवीन सिंगला ने एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर के साथ हुई वेलफेयर की मीटिंग में

जालंधर थाना-2 परिसर में स्थापित क्वार्टरों में रहने वाले पुलिस जवानों के परिवारों के साथ-साथ थाना-2, सी.आई.ए. स्टाफ-1, 2 एंटीफ्रॉड स्टाफ से लेकर कई स्टाफ पीने के पानी को तरस रहे हैं, जिस कारण महिलाओं ने हताश होकर बिजली विभाग के खिलाफ प्रदर्शन कर विरोध जताया। जानकारी के मुताबिक उक्त क्वार्टरों व बाकी स्टाफ में पानी सप्लाई करने हेतु क्वार्टरों में बने पार्क में एक पानी वाली मोटर विभाग द्वारा लगाई गई है। उक्त मोटर को बिजली सप्लाई का कनैक्शन पब्लिक हैल्थ विभाग के नाम से कई सालों से चल रहा है। बिजली विभाग के मुताबिक मोटर का बिल कई

बठिंडा पुलिस ने हत्या के मामले में एक भगौड़े  गैंगस्टर को गिरफ्तार किया है। गैंगस्टर का नाम अर्जुन सिंह है और पुलिस ने उसे हथियार के साथ गिरफ्तार किया है।पुलिस को सूचना मिली कि गैंगस्टर अर्जुन सिंह लुधियाना के बुलाढेवाला गांव में अपने रिश्तेदार के यहां आया है, जिस पर पुलिस ने गांव की घेराबंदी कर उसे हथियारों समेत गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को जानकारी मिली है कि, गैंगस्टर अर्जुन सिंह बठिंडा के दीप नगर इलाके में करीब एक साल से नाम बदलकर रह रहा था। इस पर पांच आपराधिक मामले भी दर्ज हैं। वहीं, बठिंडा पुलिस ने गैंगस्टर अर्जुन सिंह को

गैंगस्टरों पर कार्रवाई करने वाले पुलिस वालों को तोहफा मिला है, उनका प्रमोशन कर दिया गया है। पंजाब में गैंगस्टरों और तस्करों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई तेज की जाएगी और अपराधियों को काबू करने की कोशिशें जारी रहेंगी। यह बात पंजाब के डीजीपी सुरेश अरोड़ा ने कही। पंजाब पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि डीजीपी इस कार्रवाई पर खुद नजर रख रहे थे और उन्होंने फरीदकोट सीआईए स्टाफ के इंस्पेक्टर अमृतपाल सिंह को डीजीपी डिस्क से सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि पंजाब में शीघ्र ही गैंगस्टरों का सफाया कर दिया जाएगा। इस अवसर पर उनकी टीम में शामिल जसपाल सिंह थानेदार को

जगरांव पुलिस ने 20 लाख की लूट की गुत्थी को सुलझाते हुए चार लुटेरों को गिरफ्तार किया है। इसकी जानकारी आईजी अर्पित शुल्का ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों प्रीत विहार में एक व्यापारी के घर में लूट की वारदात को अंजाम दिया था, जहां से 20 लाख रुपए की नगदी और गहने लेकर लुटेरे फरार हो गए, जिसके बाद पुलिस ने लुटेरों को पकड़ने के लिए टीम गठित की और बड़ी ही होशियारी से चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों के पास से कैश और दो बाइक भी बरामद की है।

सिरसा के मंडी डबवाली में तीन गैंगस्टर्स ने पुलिस के डर से खुदखुशी कर ली। हरियाणा पुलिस और फरीदकोट पुलिस इन गैंगस्टर्स को मंडी डबवाली के आशा खेड़ा गांव में पकड़ने गई थी। खुदकुशी करने वालों में जसप्रीत सिंह जिम्पी डॉन, कमलजीत सिंह बंटी सेखों और निशान सिंह शामिल हैं। फरीदकोट के एसएसपी डॉक्टर नानक सिंह ने इस घटना की पुष्टि की है।