रोडवेज कर्मचारियों के दबाव में नई परिवहन नीति बनाने जा रही हरियाणा सरकार के खिलाफ निजी बस ऑपरेटरों ने मोर्चा खोला दिया है. इससे नई परिवहन नीति पर अस्तित्व में आने से पहले ही संकट के बादल मंडराने लगे हैं. नई नीति को आनन-फानन में सरकार लागू करती है तो ऑपरेटर इसे भी हाईकोर्ट में चुनौती देंगे. इसके संकेत द हरियाणा को-ऑपरेटिव ट्रांसपोर्ट सोसायटी वेलफेयर एसोसिएशन ने सोमवार को यहां दिए. एसोसिएशन के प्रधान सुनील कुमार ने साफ कर दिया कि परिवहन नीति-2017 रद्द करने के खिलाफ उन्होंने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने का निर्णय लिया है. कोर्ट ने सरकार को नई नीति