आगामी त्योहारी सीजन में खाने के तेल की कीमतें बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। केंद्र सरकार ने सोया तेल और पाम ऑयल पर लगने वाले आयात शुल्क में 10 फीसदी का इजाफा किया है। शुक्रवार रात को इस सिलसिले में अधिसूचना जारी हो चुकी है। देश में खपत होने वाले कुल खाने के तेल का करीब 60 फीसदी हिस्सा आयात करना पड़ता है ऐसे में आयात शुल्क में हुई बढ़ोतरी की वजह से आने वाले दिनों में खाने के तेल की कीमतों मे इजाफा होने की आशंका बढ़ गई है। सरकार की तरफ से जारी हुई अधिसूचना के मुताबिक

सप्लाई में कमी की वजह से टमाटर के दाम देश के 17 अहम शहरों में 90 रुपये के निशान को पार कर चुके हैं। इन शहरों में दिल्ली, कोलकाता, इंदौर और तिरुवनंतपुरम जैसी मेट्रो सिटी भी हैं। बारिश और बाढ़ की वजह से टमाटर के दामों में फिलहाल राहत के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। वहीं यह स्थिति अगस्त के आखिर तक बनी रह सकती है। ऐसी भी रिपोर्ट हैं कि प्याज की देश की सबसे बड़ी थोक मार्केट लसलगांव में भी प्याज के दाम तेजी से बढ़ रहे हैं। बताया जा रहा है कि लसलगांव मार्केट में सिर्फ दो