कैथल हरियाणा में मनचलों पर लगाम लगाने और महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पुलिस एक बार फिर 'ऑपरेशन दुर्गा' चलाने जा रही है. एक जुलाई से 'ऑपरेशन दुर्गा' शहरों के साथ अब गांव में भी चलाया जाएगा. कैथल पहुंचे हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने कहा कि ग्रामीण महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इस ऑपरेशन को गांव में भी चलाया जाएगा ताकि महिलाएं सुरक्षित महसूस कर सके. डीजीपी ने बताया कि अपराधों पर लगाम लगाने के लिए हर जिले में दो ऐसी गाड़ियां तैनात की जाएगी जो जीपीएस के साथ हाईटैक सुविधाओं से लैस होगी. साथ ही उन्होंने बताया कि

यूपी के तर्ज पर अब हरियाणा में भी एंटी रोमियो स्कवॉड  मनचलों की खबर ले रही है। इसी कड़ी में जींद में महिला एसएचओ रोशनी देवी के नेतृत्व में अभियान चलाया गया। कॉलेज, स्कूल के आस-पास घूम रहे युवकों से पूछताछ की गई। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर आन द स्पॉट मनचलों को सबक सिखाया गया, जो भी युवक बिना वजह कालेज और स्कूलों के बाहर घूमता नजर आया उनसे पुलिस ने कान पकड़कर उठक बैठक लगाई और कई युवकों को नसीहत देकर जाने दिया।

कुरूक्षेत्र में एक हफ्ते के अंदर दूसरी बार मजनुओं को काबू करने के लिए  ऑपरेशन दुर्गा चलाया गया। कुरुक्षेत्र की डीएसपी नुपूर बिश्नोई ने पुलिस टीम के साथ स्कूल, कॉलेजों समेत सार्वजनिक स्थलों पर आपरेशन दुर्गा चलाया। यहां पुलिस कई मनचलों को उठाकर थाने ले गई। पुलिस ने बताया कि डीएन कॉलेज के बाहर से उन्नीस मनचलों को गिरफ्तार किया गया, जबकि कई युवकों को हिदायत देकर छोड़ा गया और कई युवकों का ऑन द स्पॉट फैसला किया गया।

उत्तर प्रदेश के एंटी-रोमियो स्क्वॉड की तर्ज पर हरियाणा सरकार ने ऑपरेशन दुर्गा लांच किया गया है। एंटी-रोमियो को मिलती कामयाबी के बाद महिलाओं की सुरक्षा के लिए हरियाणा सरकार ने इसका गठन किया है। बुधवार को गठित हुए ऑपरेशन दुर्गा की टीम ने पहले ही दिन करीब 72 मनचलों को पकड़ा। ऑपरेशन दुर्गा के लिए 24 टीमें बनाई गई हैं। इन टीमों में ज्यादातर महिला अधिकारी और महिला सिपाही शामिल हैं। ऑपरेशन दुर्गा का गठन मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के फ्लाईंग स्क्वॉड द्वारा किया गया है। ऑपरेशन दुर्गा की टीम के लिए हर सार्वजनिक स्थल पर अन्य पुलिसवालों को