हरियाणा और उत्तराखंड ने अब स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत गुरुवार को संयुक्त रूप से चौथा खुले में शौच से मुक्त राज्य बनने का दावा किया है। हरियाणा के पंचायत एवं विकास मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने प्रेस कान्फ्रेंस में जानकारी दी कि राज्य के सभी 6205 ग्राम पंचायतों को खुले में शौच से मुक्त घोषित कर दिया गया है।  राज्य की सभी 6205 ग्राम पंचायतों को खुले में शौच से मुक्त घोषित कर दिया गया है। धनखड़ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के स्वर्ण जयंती वर्ष में ओडीएफ के लिए पहली नवंबर तक का लक्ष्य दिया