बगदाद आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) ने मोसुल की प्रसिद्ध झुकी हुई मीनार और उससे जुड़ी नूरी मस्जिद को बुधवार को विस्फोट कर उड़ा दिया. यह वही मस्जिद है, जहां IS के नेता अबू बकर अल बगदादी ने साल 2014 में पहली बार लोगों के सामने आकर खुद को खलीफा बताया था. IS ने अपनी अमाक प्रोपेगेंडा एजेंसी के जरिए बयान जारी कर आरोप लगाया कि अमेरिकी स्ट्राइक से मस्जिद जमींदोज हो गई है. वहीं, अमेरिकी नेतृत्व वाली गठबंधन सेना ने इस विध्वंस की निंदा करते हुए इसे मोसुल और सभी इराक के लोगों के खिलाफ अपराध करार दिया. स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल अब्दुलमीर