उत्तरी-कश्मीर के नौगाम सेक्टर में आतंकियों से लोहा लेते गुरदासपुर के मानेपुर गांव का एक जवान गुरविंदर सिंह शहीद हो गया, जिसके बाद पूरे गांव में शोक की लहर है। हालांकि, परिजनों और गांव वासियों को गुरविंदर सिंह की शहादत पर गर्व है।10 जून को शहीद का पार्थिव शरीर गांव लाया जाएगा। गुरविंदर की दो महीने पहले ही जालंधर से पूंछ राजौरी सेक्टर में तैनाती हुई थी। हंसमुख और मिलनसार गुरविंदर के शहीद होने की खबर बीएसएफ ने फोन पर दी। अपने बेटे की शहादत पर परिजनों और गांव के लोगों की आंख तो नम हैं, लेकिन उसकी बहादुरी पर