1992 में अमेरिका के राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने इंडियन स्पेस रिसर्च आर् अमेरिका के राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने ISRO पर प्रतिबंध लगाकर रूस को भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी के साथ क्रायोजेनिक इंजन टेक्नोलॉजी को गेनाइजेशन पर प्रतिबंध लगाकर रूस को भारतीय अंतदेने से रोक दिया, ताकि भारत मिसाइल निर्माण न कर सके। लेकिन उसके दो दशक के बाद अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने दुनिया की सबसे महंगी अर्थ इमेजिंग सेटेलाइट के विकास के लिए इसरो के साथ हाथ मिलाया है। गर्व की बात ये है कि नासा और इसरो इस सिंथेटिक अपर्चर रडार (NISAR) को 2021 में अंतरक्षित की कक्षा में स्थापित