यमुनानगर के बुड़िया इलाके में योगा टीचर की हत्या मामले में एक नया मोड़ आ गया है। पुलिस की तरफ से रवीश की हत्या के आरोप में वीरेंद्र नाम के एक वकील को गिरफ्तार किया है, जिसके विरोध में जिले के वकीलों ने हाइवे जाम कर दिया। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि पुलिस निष्पक्ष जांच की बजाए इस मामले में वीरेंद्र नाम के वकील को नजायज टॉर्चर कर उससे जबरदस्ती गुनाह कबूल करवाना चाहती है। अपने वकील साथी पर लगे हत्या के आरोपों को गलत बताते हुए वकीलों ने हरियाणा पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। वकीलों के प्रदर्शन को

मोगा के तारे वाला गांव के एक घर में लुटेरों ने बुजुर्ग एनआरआई दंपति पर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया। गंभीर जख्मी बुजुर्ग एनआरआई की मौके पर ही मौत हो गई। लुटेरे घर से सोना, नकदी एवं विदेशी करंसी ले गए। उसकी पत्नी स्थानीय सिविल अस्पताल में भर्ती है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। थाना चड़िक प्रमुख इंस्पेक्टर जसकार सिंह ने कहा कि अज्ञात लुटेरों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक शनिवार रात तकरीबन 1 बजे एनआरआई बुजुर्ग दंपति घर में सो रहे थे। इस दौरान वहां लुटेरे घर में दाखिल हुए।

बठिंडा के भागीवांदर गांव में करीब डेढ़ महीने पहले हुए हत्या के मामले में पुलिस के हाथ अबतक खाली है, जिससे परिजनों ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं। परिवारवालों ने कार्रवाई नहीं होने पर सामूहिक आत्मदाह की चेतावनी दी है। उनका कहना है कि अगर पुलिस ने दो दिन में दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया, तो पहले तलवंडी साबो चौक पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इसके बाद भी अगर प्रशासन हरकत में नहीं आया तो उनका पूरा परिवार थाने में जाकर सामूहिक आत्मदाह करेगा। गौरतलब है कि आठ जून को मोनू अरोड़ा की तेजधार हथियारों से हत्या

अमलोह में एक व्यक्ति ने घरेलू झगड़े के चलते अपने भतीजे की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी को लाइसेंसी राइफल समेत गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन मृतक के परिवार वालों ने आरोपी के बेटे और बहू को भी गिरफ्तार करने की मांग की। इसके तहत परिवार ने घर के सामने लोगों के साथ मिलकर रोड पर जाम लगा दिया और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस के मुताबिक ओम प्रकाश नाम के व्यक्ति ने अपने भतीजे को गोली मार दी। गंभीर रूप से जख्मी युवक ने अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही दम तोड़ दिया। पुलिस ने

कोटखाई रेप मर्डर केस में पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश किया. इस मामले में कोर्ट ने पांच आरोपियों को 7 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. उल्लेखनीय है कि चार जुलाई को कोटखाई की रहने वाली गुड़िया (बदला हुआ नाम) स्कूल से वापस आते समय लापता हो गई थी. 6 जुलाई को उसका शव जंगल में मिला था. इस मामले में गुड़िया से पहले सामूहिक दुष्कर्म और निर्मम हत्या की पुष्टि हुई थी. इसके बाद से मामले को लेकर लोगों में गुस्सा है. गैंगरेप के दौरान ही चली गई थी छात्रा की जान, दरिंदगी की दास्तां सुन आपकी

कोटखाई में दसवीं की छात्रा से दुराचार और हत्या मामले का सात दिन बाद भी खुलासा न होने से सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं. भाजपा इस प्रकरण पर मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को निशाने पर ले रही है, जबकि अन्य सामाजिक संगठन और राजनीति दलों ने भी पुलिस जांच को कटघरे में खड़ा किया है. प्रदेश भाजपा भी जनता के साथ सीबीआई जांच की मांग कर रही है. प्रदेश कांग्रेस संगठन भी पुलिस जांच से अंसतोष जता चुका है. होशियार सिंह प्रकरण के बाद इस मामले पर सियासी रंग चढ़ने से हर गुजरते दिन के साथ जनता में गुस्सा भी बढ़ता

उकलाना पुलिस ने हत्या के एक मामले को सुलझाते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। डीएसपी ने बताया कि 11 जून को रमेश नाम के व्यक्ति का भाखड़ा नहर से शव मिला था। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो सामने आया कि, प्रेम प्रसंग की वजह से व्यक्ति की हत्या की गई है। जानकारी के मुताबिक, मृतक रमेश कुमार की हत्या उसके साथ काम करने वाले सुभाष ने की। पुलिस ने आरोपी सुभाष को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी, जिसमें सुभाष ने खुलासा किया कि मृतक रमेश उसकी प्रेमिका से बात करता था जो उसे बर्दाश्त नहीं

अमृतसर में मजीठा हलके के जेठू गांव में एक महिला ने अपने नंदोई की हत्या कर दी। महिला कुछ दिन पहले ही अपने पति की हत्या के आरोप में सजा काटकर वापस आई थी और अब उसने अपने नंदोई की हत्या कर दी। जानकारी के मुताबिक, जब महिला जेल से बाहर आई तो उसे पता चला की उसकी सास ने मृतक को घर जमाई बना लिया और सारी जायदाद उसके नाम कर दी। ये बात महिला को रास नहीं आई और उसने उसकी हत्या कर दी। इस वारदात में महिला के अलावा उसके तीन साथी भी शामिल थे। पुलिस ने

देवभूमि एक फिर बार फिर शर्मसार हुई है। दसवीं कक्षा की छात्रा की रेप के बाद हत्या कर दी गई। शव नग्न हालत में जंगल से बरामद हुआ है। हिमाचल के जिला शिमला की तहसील कोटखाई की एक पंचायत में दसवीं कक्षा की छात्रा शव नग्न हालत में जंगल से बरामद हुआ है। पुलिस की प्राथमिक जांच में हत्या से पहले छात्रा के साथ दुराचार की आशंका जताई जा रही है। मामले की जांच के लिए घटना स्थल पर पुलिस, फोरेंसिक टीम और डाग स्क्वायड को बुलाया गया है। पुलिस ने घटना स्थल को सील कर दिया है। एक गांव से

पटियाला में हत्या के विरोध में प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारी बेकाबू हो गए और तोड़फोड़ शुरू कर दी। इतना ही नहीं, प्रदार्शनकारी पुलिस कर्मियों से भी भिड़ गए। मामला बढ़ता देख पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया और भीड़ को खदेड़ दिया। बताया जा रहा है कि धीरू की बस्ती में आपसी रंजिश में एक शख्स की हत्या कर दी, जिसके विरोध में मृतक के परिजन सड़कों पर उतरे और प्रदर्शन किया, लेकिन अचानक प्रदर्शनकारी बेकाबू हो गए और तोड़फोड़ शुरू कर दी। फिलहाल, इलाके में तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है लेकिन पुलिस का कहना है कि स्थिति पर काबू पा