हैम्बर्ग में हो रही जी-20 समिट में कल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बैठक काफी चर्चाओं में रही. दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के बीच तीस मिनट के लिए तय की गई ये बैठक करीब दो घंटे चली. बैठक के समय को बढ़ते देख अमेरिका की फर्स्ट लेडी यानि मेलानिया ट्रंप को इसे खत्म करने के लिए भेजा गया. एक घंटा बीत जाने पर मेलानिया ने बैठक को रोकने की कोशिश की, लेकिन ये मुमकिन नहीं हो सका. अमेरिका के राज्य सचिव रेक्स टिलरसन ने बताया कि ट्रंप और पुतिन के बीच कैमेस्ट्री इतनी अच्छी है कि निर्धारित समय पूरा होने के

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्‍नी और प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप और उनके बेटे बैरन अब व्हाइट हाउस में रहेंगे. मेलानिया बेटे बैरन के साथ व्हाइट हाउस शिफ्ट हो गई हैं. मेलानिया ट्रंप की संचार निदेशक स्टेफनी ग्रिशम ने रविवार रात ट्वीट कर कहा, "यह आधिकारिक है. मेलानिया और बैरन डीसी आ गए हैं." राष्ट्रपति बनने के बाद डोनाल्ड व्हाउट हाउस में शिफ्ट हो गए थे जबकि मेलानिया ट्रंप बेटे बैरन (11) के साथ न्यूयॉर्क के ट्रंप टावर में रह रही थीं. एनबीसी के मुताबिक, मेलानिया ने बैरन के न्यूयॉर्क स्कूल में इस साल का सत्र पूरा होने तक वहीं रहने