यूपीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार शिमला में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल हैं। इस बैठक में मीरा कुमार चुनाव के लिए समर्थन की अपील करेंगी। मुख्यमंत्री के सरकारी निवास ओकओवर में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की अध्यक्षता में ये बैठक हो रही है। इसमें सरकार के सभी मंत्री, सीपीएस और कांग्रेस विधायक शामिल हैं। हिमाचल विधानसभा में कांग्रेस के पास निर्दलीय समेत  39 विधायकों का समर्थन है, साथ ही प्रदेश से कांग्रेस के दो राज्यसभा सांसद भी हैं। इसके बाद मीरा कुमार और अंबिका सोनी मीडिया से भी बात करेंगी।

यूपीए. की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार 9 जुलाई को चंडीगढ़ जाएंगी। इस दौरान वो हरियाणा और पंजाब के कांग्रेस विधायकों से मुलाकात कर समर्थन मांगेंगी। इससे पहले रामनाथ कोविंद ने भी चंडीगढ़ पहुंचकर हरियाणा और पंजाब के भाजपा, अकाली दल और इनेलो सांसदों के अलावा विधायकों से मुलाकात कर समर्थन मांगा था। जानकारी के मुताबिक, उनके दौरे की तैयारियों का जायजा लेने कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा चंडीगढ़ जाएंगे। मीरा कुमार दोनों प्रदेशों के कांग्रेस विधायकों और सांसदों से एक साथ मुलाकात करेंगी।

दिल्ली विपक्ष की मजबूती और एकता दिखाने के एक और मौके को यूपीए ने गंवा दिया है. यूपीए के राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार जब बुधवार को अपना नामांकन दाखिल करने संसद पहुंची तो विपक्ष के बड़े नेता गैरमौजूद थे. मीरा कुमार के साथ हैवीवेट नेताओं में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ही मौजूद थे. बाकि दलों के दूसरी पंक्ति के नेताओं की मौजूदगी जरूर देखी गई लेकिन कोई बड़ा चेहरा नहीं आया. राष्ट्रपति चुनाव को लेकर हर बैठक में मौजूद रहने वाले राजद सुप्रीमो लालू यादव की गैरहाजिरी से

विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया है. मीरा कुमार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मल्लिकार्जुन खड़गे, सीताराम येचुरी, शरद पवार जैसे विपक्ष के कई नेताओं की मौजूदगी में नामांकन भरा.नामांकन से पहले मीरा कुमार बुधवार सुबह राजघाट पहुंची. मीरा कुमार के नामांकन करने से पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि बांटने की नीति के खिलाफ हमनें देश को एक करने की विचारधारा को आगे रखा है. मीरा कुमार हमारी उम्मीदवार हैं, इस पर गर्व है. https://twitter.com/OfficeOfRG/status/879937175516717057

राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष की उम्मीदवार नामित किये जाने के कुछ दिनों बाद मीरा कुमार सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर आग गई हैं. मीरा कुमार राष्ट्रपति चुनाव के लिए आगामी बुधवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी. सोमवार को उन्होंने ईद की बधाई दी और शाम तक उनके फालोवर की संख्या 2500 से ज्यादा हो गई. हालांकि मीरा कुमार केवल भारतीय कांग्रेस के पेज को फॉलो करती हैं. https://twitter.com/meira_kumar मीरा ने एक अन्य ट्वीट में लोगों से अपील की कि वे राष्ट्रपति चुनाव पर अद्यतन जानकारी के लिए उनके फेसबुक अकाउंट को फालो करें. करीब 31.3 करोड़ सक्रिय ट्विटर इस्तेमालकर्ता हैं जिनमें

यूपीए ने राष्ट्रपति पद के लिए पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार को उम्मीदवार बनाया है. राष्ट्रपति उम्मीदवार चुनने के लिए संसद भवन में विपक्ष की हुई बैठक में मीरा कुमार का नाम तय हुआ. बैठक में 17 विपक्षी दलों के नेताओं ने भाग लिया. एनसीपी के शरद पवार ने मीरा कुमार के नाम का प्रस्ताव रखा. विपक्ष का कहना है कि वे सेकुलर दलों से मीरा कुमार को समर्थन देने की अपील करेगा. मीरा कुमार 27 जून को नामांकन भरेंगी. कांग्रेस से सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह, अहमद पटेल, गुलाम नबी आज़ाद, एके एंटनी, मल्लिकार्जुन खड़गे, बीएसपी से सतीश मिश्रा, टीएमसी से