अमृतसर शिक्षकों एवं चिकित्सकों की कमी से जूझ रहे अमृतसर व पटियाला सरकारी मेडिकल कॉलेजों में 400 सीनियर रेजीडेंट डॉक्टरों की तैनाती की जाएगी. पंजाब सरकार द्वारा इन डॉक्टरों की नियुक्ति की प्रक्रिया सोमवार को संपन्न कर ली जाएगी. यदि ये 400 डॉक्टर इन दोनों मेडिकल कॉलेजों में ज्वाइन करते हैं तो निसंदेह इन कॉलेजों की कई समस्याएं खत्म हो जाएंगी. दरअसल, मेडिकल शिक्षा एवं खोज विभाग अरसे से सीनियर रेजीडेंट डॉक्टरों की तैनाती के लिए प्रयास कर रहा है. पिछले वर्ष भी डॉक्टरों की भर्ती प्रक्रिया संपन्न हुई थी, लेकिन स्टेशन अलॉटमेंट के बावजूद डॉक्टरों ज्वाइन नहीं किया। इसका सही कारण

पंजाब सरकार जल्द ही प्रदेश में पांच नए मेडिकल कॉलेज खोलने जा रही है. मोहाली और मलेर कोटला में मेडिकल कॉलेज खोलने की तैयारी शुरू हो गई है. इन मेडिकल कॉलेजों के निर्माण में 189 करोड़ की लागत आएगी, जिसमें 150 करोड़ केन्द्र सरकार देगी. पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ब्राहृ महिद्रा ने फतेहगढ़ साहिब के शहर मंडी गोबिंदगढ़ में इसकी जानकारी दी. इस दौरान ब्राहृ महिद्रा ने दावा किया कि कांग्रेस ने अपने चुनावी मेनिफेस्टो में जो भी वादे किए थे, उन्हे पूरा किया जाएगा, वहीं प्रदेश के अस्पतालों में स्टाफ की कमी पर बोलते हुए उन्होंने बताया कि इसको लेकर